April 15, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

11 जुलाई :विश्व जनसंख्या दिवस

1 min read

दुनियाभर में तेजी से बढ़ती जनसंख्या की ओर लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए हर साल 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाता है. बढ़ती जनसंख्या कई विकासशील देशों के लिए बड़ी समस्या है. यहां जनसंख्या विस्फोट एक गंभीर चिंता का विषय है.

लेकिन इस बार दुनिया कोरोना महामारी की गिरफ्त में है. ऐसे में संयुक्त राष्ट्र ने विश्व जनसंख्या दिवस 2020 की थीम में महिलाओं के स्वास्थ्य और अधिकारों से संबंधित रखी है. विश्व जनसंख्या दिवस 2020 की थीम है- ‘कोविड-19 की रोकथाम: महिलाओं और लड़कियों के स्वास्थ और अधिकारों की सुरक्षा कैसे हो’.

देश-दुनिया में महिलाएं अक्सर असुरक्षित माहौल में काम करती हैं. उनकी सुरक्षा पर खास ध्यान नहीं दिया जाता है. जबकि दुनियाभर में करीब 60 फीसदी महिलाएं अनौपचारिक रूप से अर्थव्यवस्था में योगदान देती हैं.

कोरोना संकट में महिलाओं की परेशानी पहले से और ज्यादा बढ़ गई है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोना संकट के समय 5 साल से कम उम्र के शिशुओं और उनकी माताओं को पर्याप्त स्वास्थ्य सेवाएं और पोषक तत्व नहीं मिल रहे हैं. इस वजह से उनकी मृत्यु दर बढ़ी है.

इस दौरान शिशुओं की मृत्यु के 2,53,500 और माताओं की मृत्यु के 12,200 ज्यादा मामले सामने आए हैं. इस मुश्किल समय में महिलाओं को अपना और शिशुओं का खास ध्यान रखना आवश्यक है. परिवार के अन्य सदस्य भी उनका ध्यान रखें.

Worldometers के अनुसार, इस समय दुनिया की जनसंख्‍या 7.7 बिलियन है. चीन दुनिया की सबसे ज्‍यादा जनसंख्‍या वाला देश है. चीन के बाद सबसे ज्यादा जनसंख्या भारत में है.

भारत की जनसंख्या करीब 135 करोड़ है. वर्तमान में सबसे तेज गति से जनसंख्या बढ़ने करने वाला देश नाइजीरिया है. साल 2050 तक नाइजीरिया के अमेरिका को पीछे छोड़कर तीसरे स्थान पर पहुंचने की संभावना है.

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.