July 14, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

उज्ज्वला योजना : एक करोड़ शहरी गृहणियों को साधने की तैयारी:

1 min read

उज्ज्वला योजना से ग्र्रामीण क्षेत्र की गरीब महिलाओं को साधने के बाद सरकार की नजर अब ऐसी ही एक नयी योजना से शहरी गृहणियों पर है। देश के 22 राज्यों के 174 जिलों की एक करोड़ गृहणियों के रसोई घर को सीधे पीएनजी पाइपलाइन से जोड़ने का अभियान मंगलवार को शुरू किया गया।

Free Gas Connection Distribute Under Ujjwala Yojana On 20nd April - उज्ज्वला  योजना में करें आवेदन, 20 अप्रैल को मिलेगा मुफ्त कनेक्शन | Patrika News

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इसके लिए सिटी गैस वितरण लाइसेंसिंग योजना के तहत निविदा प्रक्रिया शुरू की। इससे उन शहरों में पाइपलाइन से पीएनजी देने वाली कंपनियों का चयन होगा।

इस योजना के पूरा होने पर देश की 29 फीसद आबादी के रसोई घर तक सीधे पीएनजी कुकिंग गैस पहुंचने लगेगी। इस पर 70 हजार करोड़ रुपये की लागत आने के आसार हैं।

Hindi-Pradhan Mantri Ujjwala Yojana (PMUY): Benefits, Online Application,  Important Documents and Key Facts

केंद्रीय मंत्री प्रधान का कहना है कि शहरी क्षेत्र के लोगों को भी आसानी से कुकिंग गैस पीएनजी (पाइप्ड नेचुरल गैस) मिलने की प्रक्रिया तेज की जाएगी। सरकार की मंशा है कि वर्ष 2020 तक एक करोड़ परिवारों को सीधे उनके रसोई घर में पीएनजी मिले। यह सरकार व ग्र्राहकों दोनों के लिए फायदे का सौदा है।

सरकार के लिए फायदे की बात यह है कि इस पर कोई सब्सिडी का झंझट नहीं है। ग्र्राहकों को फायदा यह है कि उन्हें सस्ती दर पर पर्याप्त गैस मिलने का रास्ता साफ होगा। आम तौर पर देखा गया है कि पीएनजी से खाना बनाने वाले परिवारों का खर्च सामान्य एलपीजी सिलेंडर से कम होता है।

Pradhan Mantri Ujjwala Yojana kya hai? प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की  जानकारी

प्रधान ने बताया कि सरकार चाहती है कि देश की अर्थव्यवस्था में पीएनजी की हिस्सेदारी बढ़े। अभी यह हिस्सेदारी 6.5 फीसद है जबकि इसे बढ़ाकर 15 फीसद करने का लक्ष्य है। उन्होंने यह भी बताया कि वर्ष 2014 में सिर्फ 73 जिलों में पीएनजी कुकिंग गैस की आपूर्ति उपलब्ध थी। लेकिन अब यह 174 जिलों में उपलब्ध होगी।

इलाहाबाद, फैजाबाद, अमेठी, रायबरेली, देहरादून,लुधियाना व जालंधर को भी लाइसेंस :

Pradhan Mantri Ujjwala Yojana: सितंबर तक मुफ्त में मिलेगा गैस सिलेंडर, ऐसे  कराएं तुरंत रजिस्ट्रेशन - Pradhan mantri ujjwala yojana modi govt will  provide three more cylinder know here how to apply

सिटी गैस वितरण लाइसेंसिंग योजना का यह नौवां दौर होगा। इसमें उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद, फैजाबाद, अमेठी, रायबरेली, उत्तराखंड के देहरादून, मध्य प्रदेश के भोपाल, महाराष्ट्र के अहमदनगर, पंजाब के लुधियाना व जालंधर समेत कई जिला मुख्यालयों को शामिल किया गया है। इस दौर के पहले इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड, गेल गैस लिमिटेड जैसी कंपनियों को 91 लाइसेंस दिए जा चुके हैं। ये कंपनियां देश में 42 लाख घरों को पीएनजी की आपूर्ति कर रही हैं।

Ujjwala Yojna Impact In Rural Areas Ground Report Part 2 Rural Women Still  Hesitate To Make Gas Sylinder Their Primary Cooking Fuel Tkk | उज्ज्वला  योजना ग्राउंड रिपोर्ट-2: ये हिंदुस्तान है साहब!

नौवें दौर में सरकार ने लाइसेंस देने की मौजूदा प्रक्रिया को भी बदला है। अब तेजी से इंफ्रास्ट्रक्चर लगाने वाली और तेजी से पाइपलाइन से गैस कनेक्शन देने वाली कंपनियों के प्रस्ताव को तरजीह दी जाएगी।

Pradhanmantri Ujjwala Yojana insurance Benefit: Ek Number News

निविदा में सफल होने वाली कंपनियों को हर एक शहर में आठ वर्षों के लिए सिटी गैस वितरण का एक्सक्लूसिव लाइसेंस दिया जाएगा। अभी पांच वर्षों के लिए यह लाइसेंस दिया जाता है।

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.