April 11, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

आकाश से जमीन पर ‘खुफिया आंख’ से 1 पानी की Bottle भी रखी होगी तो चल जाएगा पता?

1 min read

भारत ने 11 दिसंबर को अपना सर्विलांस सैटेलाइट लॉन्च किया है. ये पिछले 15 दिनों में लॉन्च किया गया दूसरा सर्विलांस सैटेलाइट है. अंतरिक्ष में चक्कर लगाते हुए ये हमारे दुश्मनों की जासूसी भी कर सकता है. आप इसे Space में हमारा सबसे शानदार और सटीक जासूस भी कह सकते हैं. PSLV-C48 रॉकेट ने देश में बने (रिसैट) RISAT-2BR 1 सैटेलाइट के साथ 4 देशों के 9 Satellites को अंतरिक्ष में सफलतापूर्वक पहुंचा दिया है. आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से बुधवार को दोपहर 3 बजकर 25 मिनट पर ये Satellites लॉन्च किए गए. और सिर्फ 21 मिनट में सभी 10 उपग्रह अंतरिक्ष में अपनी कक्षा में पहुंच गए.

1. ये प्रक्षेपण ISRO के लिए इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह PSLV रॉकेट की 50वीं उड़ान है. लेकिन इसमें सबसे बड़ी खबर ये है कि देश को दुश्मनों के बारे में जानने के लिए एक और महत्वपूर्ण तकनीक मिल गई है. RISAT-2BR 1… एक Radar Imaging, Earth Observation Satellite है. इसका मतलब ये है कि इस उपग्रह में Radar की मदद से पृथ्वी की तस्वीरें लेने की क्षमता है.

2. 628 किलोग्राम वजन वाले इस स्वदेशी Satellite को पृथ्वी की कक्षा में 576 किलोमीटर की ऊंचाई पर स्थापित किया गया है. अगले 5 वर्षों तक ये काम करता रहेगा. इस उपग्रह में X-band Synthetic Aperture Radar सिस्टम मौजूद है. जो रात, बादल वाले मौसम और आंधी-तूफान जैसे हालात में भी पृथ्वी की सटीक तस्वीरें ले सकता है. अंधेरे में भी दिन की तरह काम करना इसकी एक बड़ी क्षमता है. क्योंकि अक्सर पाकिस्तान रात के अंधेरे और मौसम का फायदा उठाकर हमारी सीमा में घुसपैठ करता है.

3. इस Satellite में तस्वीरें लेने का काम कैमरा नहीं बल्कि Radar करता है. तस्वीर लेने के लिए… Radar से निकली Radio Waves पृथ्वी पर मौजूद वस्तुओं से टकराकर वापस जाती हैं. और उन Radio Waves की मदद से साफ सुथरी high-resolution की तस्वीरें बनती है. इस Radar से दुश्मन के इलाके में यदि कोई बंकर या हथियार मौजूद होगा तो उसकी पूरी खबर मिलेगी… और इससे बचना लगभग नामुमकिन होगा . यानी तस्वीर लेने का काम Radar करेगा

4. ये Radar पृथ्वी पर मौजूद 1 फीट के आकार की किसी भी वस्तु की 3-D तस्वीरें ले सकता है. यानी अगर जमीन पर एक पानी की Bottle भी रखी होगी तो 576 किलोमीटर की ऊंचाई से उसका पता चल जाएगा. इसकी 3-D तस्वीरें कुछ वैसी ही होंगी जैसा आप अपने मोबाइल फोन पर Google Maps में देखते हैं.

5. खास बात ये भी है कि ये उपग्रह भारतीय उपमहाद्वीप पर नजर रखेगा यानी चीन और पाकिस्तान से लगी सीमा पर इसकी नजर होगी. इसके साथ ही ये समंदर पर भी नजर रख पाएगा. अब आप खुद ही अंदाजा लगा सकते हैं कि अगर ये Satellite… एक फीट की वस्तुओं की तस्वीर ले सकता है तो समुद्र में चल रहे हजारों फीट बड़े जहाजों की तस्वीर लेना इसके लिए कितना आसान काम होगा. ये उपग्रह सिर्फ 90 मिनट में पृथ्वी का एक चक्कर लगाएगा यानी एक दिन में कई बार पृथ्वी पर मौजूद किसी लक्ष्य की तस्वीरें ली जा सकेंगी.

6. इस Satellite और इसके विशेष Radar का निर्माण वैज्ञानिकों ने देश में ही किया है. इस खबर के बारे में Extra जानकारी के लिए हमने अंतरिक्ष वैज्ञानिकों से बात की है. जो आपको इस Satellite की सबसे बड़ी खासियत आसान भाषा में समझाएंगे. इस मिशन में देश की सुरक्षा के साथ विदेशी Satellites लॉन्च करके देश के लिए कमाई भी की गई है.

7. RISAT-2BR 1 के साथ America के 6 उपग्रह…. इजरायल, इटली और जापान का एक-एक Satellite भी भेजा गया है. लॉन्च किए गए इजरायल के उपग्रह को छात्रों ने बनाया है. इजरायल के इस एजुकेशनल सैटेलाइट का वजन सिर्फ 2 किलोग्राम है. ये उपग्रह वायु और जल प्रदूषण पर रिसर्च करेगा और इसका कैमरा धरती की तस्वीरें लेगा.

8. भारत और इज़रायल की दोस्ती जमीन से अंतरिक्ष तक कायम है. RISAT सीरीज के Surveillance Satellites का निर्माण अप्रैल 2009 में इज़रायल की मदद से किया गया था. वर्ष 2008 में मुंबई आतंकी हमले के बाद दुश्मनों पर नजर रखने के लिए इसे लॉन्च किया गया था.

9. इस सीरीज का चौथा Satellite लॉन्च किया गया है. इस वक्त अंतरिक्ष में ऐसे 2 Satellites हैं. लेकिन अगले वर्ष इस सीरीज के 2 और Satellites भेज दिए जाएंगे. ये उपग्रह पृथ्वी की निचली कक्षा में लगातार चक्कर लगाते रहते हैं…अंतरिक्ष में RISAT सीरीज के 4 Satellites होने का मतलब ये है कि हम अपने दुश्मनों पर हमेशा नजर रख पाएंगे. अगर सीमा पर किसी जगह घुसपैठ हो रही होगी.. तो ये चारों मिलकर उस लोकेशन की लगातार कवरेज करेंगे… और देश की रक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे .

10. ये Surveillance Satellites नए जमाने के जासूस हैं..जिन्हें किसी दुश्मन देश की सीमा में जाकर जान खतरे में डालने की जरूरत नहीं पड़ती है. जासूसी Satellite से जुड़ी हर जानकारी को छिपाकर रखा जाता है… इनके बारे में शायद आपको भी ज्यादा जानकारी नहीं होगी… इसलिए आप अंतरिक्ष में मौजूद भारत के सबसे Smart जासूस पर हमारी विशेष रिपोर्ट देखिए




loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.