April 15, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

ई-सिगरेट पीने वालों में तीन गुना ज्यादा पाया गया फेफड़ों के रोगों के होने का खतरा

1 min read

इस अध्ययन से जुड़े प्रोफेसर स्टैंटन ग्लैंट्ज ने कहा, ‘तंबाकू सेवन को नियंत्रित करने के बाद भी ई-सिगरेट का इस्तेमाल करने वालों में फेफड़ों के रोग का खतरा करीब तीन गुना ज्यादा पाया। इस आधार पर हम इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं कि ई-सिगरेट भी नुकसानदेह है।’ पूर्व में किए गए अध्ययन में भी ई-सिगरेट और फेफड़ों के रोग के बीच संबंध पाया गया था।

अमेरिका की कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के अनुसार, यह निष्कर्ष ई-सिगरेट और तंबाकू सेवन को लेकर करीब 32 हजार लोगों पर तीन साल तक किए गए एक अध्ययन के आधार पर निकाला गया है।

पारंपरिक सिगरेट के सुरक्षित विकल्प के दावे के साथ पेश की गई ई-सिगरेट से होने वाले नुकसान को लेकर एक नया अध्ययन किया गया है। इसमें पाया गया कि ई-सिगरेट के इस्तेमाल से अस्थमा और ब्रोंकाइटिस (श्वसन नली में संक्रमण) जैसी फेफड़ों की बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है। 

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.