April 15, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

कोरोनो वायरस से चीन में अब तक 41 मरे, यूरोप में भी पहुंचा ………..

1 min read

कोरोना वायरस ने यूरोप में भी दस्‍तक दे दी है। फ्रांस में कोरोना वायरस से पीडि़त 3 लोगों की पुष्टि हुई है। वहीं, चीन ने बताया कि कोरोना वायरस से अब तक वहां 41 लोगों की मौत हो चुकी है। इधर, भारत में अभी तक कोरोना वायरस से संक्रमित किसी शख्‍स की पुष्टि नहीं की गई है, लेकिन कुछ मरीजों की अलग वार्ड बनाकर जांच की जा रही है। बता दें कि जानलेवा कोरोना वायरस का अभी तककोई विशेष इलाज नहीं ढूंढा जा सका है।

फ्रांस में दो लोग चपेट में, यूरोप में सामने आया पहला मामला
फ्रांस ने चीन में कहर बरपा रहे नये जानलेवा वायरस से दो लोगों के चपेट में आने की शुक्रवार को घोषणा की। यह यूरोप में वायरस का पहला मामला है। स्वास्थ्य मंत्री एग्निस बुजिन ने दो मामलों की पुष्टि की। 

चीन से फैले जानलेवा कोरोना वायरस तेजी से दूसरे देशों में भी फैल रहा है। भारत, थाईलैंड, अमेरिका, ताइवान, जापान, वियतनाम, सिंगापुर के बाद अब कोरोना वायरस यूरोप में पहुंच गया है। फ्रांस में कोरोना वायरस से संक्रमित तीन लोगों की पुष्टि हुई है। फ्रांस की स्वास्थ्य मंत्री एग्नेस बुजिन ने बताया कि पहला मामला साउथवेस्टर्न सिटी में पाया गया। दूसरा केस पेरिस में मिला। करॉना वायरस से संक्रमित तीसरा शख्स पीड़ितों का एक रिश्तेदार है। चीन में इस वायरस की वजह से 41 लोगों की जान जा चुकी है, वहीं लगभग 1300 मरीज इससे संक्रमित बताए जा रहे हैं। इसमें 237 की हालात बेहद गंभीर है।

10 देश प्रभावित, डब्ल्यूएचओ ने कहा अभी विश्व के लिए खतरा नहीं
कोरोनावायरस के मरीज ऑस्ट्रेलिया (4), नेपाल (1), थाईलैंड (5), अमेरिका (2), ताइवान (1), जापान (2), दक्षिण कोरिया (2), वियतनाम (2), सिंगापुर (3), हांगकांग (2) और मकाऊ (2) आदि 10 देशों में मिल चुके हैं। यूके, भारत सहित कई देशों में संदिग्ध मिल रहे हैं। अकेले चीन में 900 से अधिक मरीज संक्रमित पाए गए हैं तो अन्य देशों में करीब 26 मरीजों का इलाज चल रहा है।

क्‍या है कोरोना वायरस

कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है। ये वायरस सामान्य जुकाम से लेकर श्वास तंत्र की गंभीर समस्या तक पैदा कर सकता है। इससे संक्रमित होने पर व्यक्ति में बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, थकान, हांफना जैसे लक्षण नजर आते हैं। अभी तक कोरोना वायरस का कोई विशेष इलाज नहीं ढूंढा जा सका है। इस विषाणु से होने वाली बीमारी की रोकथाम के लिए कोई वैक्सीन का भी नहीं खोजी गई है।

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.