April 20, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

भारतीय नौसेना में कोरोना का बड़ा अटैक एक साथ 20 जवान संक्रमित

1 min read

देश में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस ने अ​ब और खतरनाक रूप ले लिया है. खबर है कि इस घातक वायरस ने भारतीय नौसेना के जवानों को भी संक्रमित करना शुरू कर दिया है. बताया जा रहा है कि पश्चिमी नौसेना कमान के तट पर मौजूद लॉजिस्टिक और एडमिनिस्ट्रेटिव सपोर्ट बेस INS आंग्रे पर 19 जवान कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. वहीं दावा किया जा रहा है कि पॉजिटिव पाए गए जवानों की संख्या 20 भी हो सकती है. INS आंग्रे महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई के तट पर मौजूद है.यह पहला मामला है जब इतनी अधिक संख्या में सैन्य कर्मियों का कोविड-19 के लिए इलाज चल रहा है. भारतीय थलसेना में अभी तक इस जानलेवा वायरस के आठ मामले सामने आए हैं. नौसेना ने एक बयान में बताया, मुंबई में नौसैन्य परिसरों के भीतर सेवारत कुल 21 कर्मी कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं. इनमें आईएनएस आंग्रे के 20 नौसैनिक शामिल हैं.

नौसेना ने बताया कि सभी संक्रमितों का मुंबई के एक नौसैन्य अस्पताल में इलाज चल रहा है. उसने बताया कि ज्यादातर संक्रमित लोग उस नौसैनिक के संपर्क में आए थे जो सात अप्रैल को कोविड-19 से संक्रमित पाया गया था. नौसेना ने बताया, ये सभी आईएनएस आंग्रे के एक ही रिहायशी ब्लॉक में रहते हैं. प्राथमिक संपर्क में आए सभी लोगों की कोविड-19 के लिए जांच की गई. वहां रह रहे सभी लोगों को फौरन क्वारंटाइन में भेज दिया गया है. आईएनएस आंग्रे को भी पूरी तरह से बंद कर दिया गया है.

सूत्रों ने बताया कि नौसेना मुख्यालय समेत रक्षा मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी मामले पर नजर रख रहे हैं. उन्होंने बताया कि नौसेना ने अपनी सभी शाखाओं को कोविड-19 से कर्मियों की रक्षा के लिए अत्यधिक एहतियात बरतने का आदेश दिया है. पिछले हफ्ते नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने एक वीडियो संदेश में अपने कर्मियों से कहा था कि जहाज और पनडुब्बी समेत अहम संचालनात्मक संपत्तियों को संक्रमण मुक्त रखना चाहिए. उन्होंने कहा था, कोरोना वायरस वैश्विक महामारी अप्रत्याशित है और यह पहले कभी नहीं हुई. इसका भारत समेत दुनियाभर में काफी असर पड़ा है.

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.