April 20, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

अमेरिकी नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की मौत पर हिंसा को देख राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कही ये बात करीब 40 शहरों में कर्फ्यू। …

1 min read

अफ्रीकी मूल के अमेरिकी नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस हिरासत में मौत को लेकर हो रहे हिंसक प्रदर्शनों के छठे दिन अमेरिका में आक्रोश और भावनाएं उबाल पर हैं. इन हिंसक प्रदर्शनों में अब तक कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई है, हजारों लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है और करीब 40 शहरों में कर्फ्यू लगाया गया है जबकि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को व्हाइट हाउस के बंकर में शरण लेनी पड़ी है. देखें हिंसा की तस्वीरें.

अमेरिका में पिछले कई दशकों में अब तक के सबसे बड़ी नागरिक अशांति माने जा रहे ये हिंसक प्रदर्शन फ्लॉयड की मौत के बाद अमेरिका में कम से कम 140 शहरों तक फैल गए हैं.कुछ प्रदर्शनों के हिंसक रूप ले लेने के बाद कम से कम 26 राज्यों में नेशनल गार्ड के सैनिकों की तैनाती कर दी गई है.लंदन, न्यूजीलैंड समेत कई देशों में हजारों लोग फ्लॉयड के समर्थन में विरोध कर रहे लोगों के लिए मार्च निकाल रहे हैं.

अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को शहर से प्रदर्शनकारियों द्वारा स्टोर्स को लूटने की तस्वीरें भी आई हैं.फ्लॉयड की गर्दन पर घुटना रखने वाले पूर्व पुलिस अधिकारी पर थर्ड-डिग्री मर्डर और हत्या के आरोप लगाए गए है.प्रदर्शनकारियों का कहना है कि आरोप काफी कठोर नहीं है,

और इसमें शामिल अन्य अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए.अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जॉर्ज फ्लॉयड की मृत्यु के बाद हिंसक प्रदर्शनों के बीच माना कि जॉर्ज फ्लॉयड की मौत एक गंभीर त्रासदी थी.रविवार देर रात भारी संख्या में प्रदर्शनकारी राजधानी वॉशिंगटन में व्हाइट हाउस के बाहर इक्ट्ठा हो गए पत्थरबाजी की.एहतियातन तौर पर व्हाइट हाउस के कर्मचारियों को निर्देश जारी किए गए हैं कि वो अपने आई कार्ड छिपा कर कर आएं.इसी हिंसा के दौरान अमेरिकी सीक्रेट सर्विस के 60 कर्मी भी घायल बताए जा रहे हैं.

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.