April 22, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

कोरोना वायरस का सबसे बुरा रूप आना अभी बाकी है हमें ये कहते हुए दुख हो रहा है: WHO चीफ टेड्रोस गैब्रियेस

1 min read

दुनिया में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है और हर किसी के मन में सवाल है कि आखिर ये महामारी कब पीछा छोड़ेगी. विश्व स्वास्थ्य संगठन का मानना है कि अभी दुनिया में कोरोना वायरस का सबसे बुरा काल नहीं आया है और वो आना अभी बाकी है. WHO चीफ टेड्रोस गैब्रियेस ने कहा कि कोरोना वायरस का बुरा रूप आना अभी बाकी है, हमें ये कहते हुए दुख हो रहा है.

सोमवार को मीडिया से बात करते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन के चीफ ने कहा कि हमें इस वायरस को हराने के लिए साथ में काम करना होगा, अगर हर देश अपने आप को अलग कर लेगा तो बहुत बुरा होगा. उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे कई देश अपनी अर्थव्यवस्था को खोल रहे हैं, तो वहां पर दोबारा से इस वायरस का असर दिख रहा है.

उन्होंने कहा कि भले ही कुछ देशों में इस वायरस की रफ्तार कम हुई हो, लेकिन वैश्विक लेवल पर इसका असर बढ़ गया है. बता दें कि पहले दुनिया में हर रोज कोरोना वायरस के 80 हजार से एक लाख के करीब केस आते थे, लेकिन पिछले कुछ दिनों से रोजाना डेढ़ लाख से अधिक मामले सामने आ रहे हैं.

दुनिया में इस वक्त अमेरिका, ब्राजील और भारत ऐसे देश हैं, जहां कोरोना वायरस के सबसे अधिक केस आ रहे हैं. अमेरिका और ब्राजील में औसत रोज 30 हजार से अधिक केस आ रहे हैं, जबकि भारत में रोज 20 हजार के करीब केस आ रहे हैं, जो चिंताजनक हालात हैं.

अमेरिकी यूनिवर्सिटी जॉन हॉपकिन्स के अनुसार, अभी दुनिया में कोरोना वायरस के कुल मरीजों की संख्या 1 करोड़ 2 लाख के करीब है, जबकि 5 लाख लोगों की जान जा चुकी है. अमेरिका, ब्राजील, रूस और भारत इस वक्त सबसे अधिक प्रभावित देश हैं. सिर्फ अमेरिका में ही सवा लाख लोगों की जान चली गई है.
loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.