April 20, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

डॉ भीमराव अंबेडकर के आवास पर हुई घटना पर CM ठाकरे ने सख्त कार्रवाई करने के दिए निर्देश

1 min read

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को डॉ बी आर अंबेडकर के घर ‘राजगृह’ में हुई तोड़फोड़ में शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। ठाकरे ने इस घटना को “चौंकाने वाला” बताते हुए कहा कि सरकार यहां दादर क्षेत्र में स्थित ‘राजगृह’ का अपमान बर्दाश्त नहीं करेगी।

उन्होंने कहा कि, “परिसर केवल अंबेडकरवादियों के लिए ही नहीं बल्कि पूरे समाज के लिए एक पवित्र स्थान है। अंबेडकर ने इस परिसर में अपने सभी लेखन को संरक्षित किया है। यह सभी महाराष्ट्रवासियों के लिए एक तीर्थस्थल की तरह है।” मुख्यमंत्री ने कहा, “सरकार राजगुरु का अपमान बर्दाश्त नहीं करेगी और मैंने पुलिसवालों  को  दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया है।”

अंबेडकर राजगृह में लगभग दो दशकों तक रहे। घर उनके स्मारक ‘चैत्यभूमि’ के करीब स्थित है। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि दो व्यक्तियों ने मंगलवार रात घर में पत्‍थरों से हमले किए और घर की खिड़कियों के कांच तोड़ दिये और सीसीटीवी कैमरों को भी नुकसान पहुंचाया। माटुंगा पुलिस ने इस घटना की प्राथमिकी दर्ज कर ली है। दादर में हिंदू कॉलोनी में स्थित इस बंगले में अंबेडकर संग्रहालय है। यहां बाबासाहेब की किताबें, चित्र, बर्तन और अन्य कलाकृतियाँ रखी हुई हैं।

गौरतलब है कि भारतीय संविधान निर्माता डॉक्‍टर भीमराव अंबेडकर के मुंबई स्थित आवास ‘राजगृह’ को नुकसान पहुंचाने की घटना सामने आयी थी। कुछ अज्ञात लोगों ने मिलकर आवास परिसर में रखे गमलों को तोड़ा तथा सीसीटीवी कैमरे को भी क्षतिग्रस्‍त कर दिया था। इस घटना की सूचना मिलते ही मुंबई पुलिस ने मौके पर पहुंच तुरंत कार्रवाई शुरु कर दी थी ।

इस घटना की महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने निंदा करते हुए विश्‍वास दिलाया है कि दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। गृहमंत्री देशमुख ने ट्वीट किया है कि, “दादर में डॉ. अंबेडकर के आवास पर कुछ अज्ञात लोगों द्वारा हमला किए जाए की घटना निंदनीय है।” गृहमंत्री ने ये भी कहा कि पुलिस इस घटना की जांच कर रही है और दोषियों को किसी भी कीमत पर बख्‍शा नहीं जाएगा। पुलिस को इस मामले की जांच करने और दोषियों की गिरफ्तारी का आदेश दे दिया गया है।

मंत्री जयंत पाटिल और धनंजय मुंडे ने भी इस घटना की निंदा की है। डॉ. अंबेडकर के पोते और वंचित बहुजन आघाडी के अध्यक्ष प्रकाश अंबेडकर ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है, उन्‍होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि ‘राजगृह’ के बाहर एकत्रित न हों। प्रकाश डॉ. अंबेडकर के दूसरे पोते ने भी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि ये एक छोटी घटना है।

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.