May 18, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

बिकरु हत्याकांड में शामिल लालू हुआ गिरफ्तार 50 हजार का था इनाम

1 min read

कानपुर के बिकरु हत्याकांड मामले में पुलिस ने एक और बदमाश को गिरफ्तार कर लिया है. बिकरु कांड के बाद एनकाउंटर में मारे गए कुख्यात विकास दुबे के साथी बाल गोविंद उर्फ लालू को चित्रकूट से गिरफ्तार किया गया.

लालू पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित था. लालू बिकरू गांव में 8 पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या किये जाने के मामले के प्रमुख आरोपियों में शामिल है.

एसटीएफ के एक प्रवक्ता ने बताया कि बिकरू गांव के रहने वाले लालू को सोमवार को कर्वी थाना क्षेत्र स्थित परिक्रमा मोड पर गिरफ्तार किया गया. एसटीएफ के मुताबिक, लालू यहां भेष बदलकर रह रहा था.

एसटीएफ के मुताबिक, लालू ने पूछताछ में अपना गुनाह कबूल कर लिया है. लालू ने कबूल किया है कि वह विकास दुबे के उन साथियों में शामिल है जिन्होंने दो जुलाई की रात को बिकरु गांव में हमला करके आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी.

एसटीएफ के अपर पुलिस अधीक्षक विशाल विक्रम सिंह ने बताया कि शुरुआत में लालू ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन सख्ती से पूछताछ में उसने बिकरू कांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली.

लालू ने बताया कि मोहिनी निवादा निवासी उसके दामाद विनीत शुक्ला का जादेपुर गासा के रहने वाले राहुल तिवारी नाम के एक शख्स के साथ विवाद चल रहा था.

तिवारी ने इस मामले में विकास दुबे और उसके साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. इसी शिकायत के आधार पर पुलिस ने वारदात वाली रात को दुबे के घर पर दबिश दी थी, जिसके बाद हुए हमले में आठ पुलिसकर्मी मारे गये.

लालू की गिरफ्तारी विकास दुबे के एक अन्य साथी उमाकांत उर्फ गुड्डन द्वारा आत्मसमर्पण किये जाने के बाद हुई है. इससे पहले, दयाशंकर अग्निहोत्री, श्यामू बाजपेयी, शशिकांत, मोनू और शिवम दुबे समेत कई अभियुक्त गिरफ्तार किये जा चुके हैं.

वहीं, बिकरु कांड मामले में विकास दुबे और उसके साथी प्रभात मिश्रा, अमर दुबे, बउवा दुबे, प्रेम कुमार पाण्डेय और अतुल दुबे पुलिस और एसटीएफ के साथ हुई अलग-अलग मुठभेड़ों में मारे जा चुके हैं.

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.