May 14, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश में खिलौना नीति लाने की कर रही तैयारी पढ़े पूरी खबर

1 min read

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अपील के बाद देश में स्वदेशी खिलौने की बढ़ती मांग को देखते हुए योगी सरकार यूपी में खिलौना उत्पादन का हब बनाने की तैयारी कर रही है. खिलौना का उत्पादन बढ़ाकर राज्य सरकार की योजना 3 लाख से ज़्यादा लोगों को रोज़गार देने की भी है. सरकार इसके लिए नयी खिलौना नीति लाने की तैयारी कर रही है. जिसके तहत अगले 5 सालों में 20 हज़ार करोड़ का लक्ष्य रखा गया है. जल्द ही नयी नीति का प्रस्ताव कैबिनेट में रखा जाएगा.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस बड़े निवेश के कदम पर अंतिम मुहर लगाएंगे. इस योजना के तहत निवेश करने वाले देसी और विदेशी निवेशकों को पूंजी, ब्याज, ज़मीन की ख़रीद और स्टैम्प ड्यूटी, पेटेंट, बिजली परिवहन समेत अन्य सुविधाएं सब्सिडी के साथ दी जाएंगी. अगर निवेशक महिला या अर्धसैनिक बलों से जुड़े हो तो अतिरिक्त रियायतें भी दी जाएंगी.

Up Cm Yogi Adityanath Performed Special Ganga Aarti In Haridwar - Video:  सीएम बनने के बाद पहली दफा हरिद्वार पहुंचे योगी, हुए गंगा आरती में शामिल -  Amar Ujala Hindi News Live

प्रदेश में खिलौना इंडस्ट्री को बढ़ावा देने से सबसे ज़्यादा लाभ उन ज़िलों को होगा जो अभी उद्योगों की दृष्टि से पिछड़े हुए है. जिसमें चित्रकूट, गोरखपुर, आज़मगढ़ जैसे जिले शामिल है. यहां तक कि झांसी के सॉफ़्ट टॉयज को जनवरी 2018 में ही सरकार ने अपने फ़्लैगशिप योजना ओडीओपी में शामिल कर इसकी बेहतरी के लिए काम करना शुरू कर दिया था. जिसके लिए DSR रिपोर्ट भी तैयार करवायी जा चुकी है.

क्या उत्तर प्रदेश में रासुका का इस्तेमाल बतौर सियासी हथियार मुस्लिमों के  ख़िलाफ़ किया जा रहा है?

जानकर ये भी बता रहे है कि देश में करीब 90 प्रतिशत खिलौने चीन और ताइवान से आते है. वैश्विक कारोबार में भी भारत की हिस्सेदारी सिर्फ़ 5 प्रतिशत है. पिछले कुछ महीनो में चीन से आयत होने वाले चीनी खिलौने की डिमांड में कमी आयी है. ऐसे में यूपी सरकार के पास ये बड़ा मौक़ा है. जिसका सीधा फ़ायदा प्रदेश के लोगों को मिलेगा

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.