May 18, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

क्या सुशांत सिंह राजपूत की मौत का मुद्दा बना के लड़ा जायेगा बिहार चुनाव

1 min read

बिहार विधानसभा चुनाव नजदीक है. ऐसे में जनता से जुड़ने के लिए पार्टियां हर हथकंडा अपना रही हैं. इसी क्रम में बिहार बीजेपी ने एक ऐसे मुद्दे को उठाया है, जिसपर अभी पूरे देश की नजर है और वो मुद्दा है अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत का. बिहार में सुशांत सिंह राजपूत की मौत चुनावी मुद्दा बन चुका है.

बिहार बीजेपी के दफ्तर से लेकर कार, रिक्शा, ठेले पर सुशांत सिंह राजपूत का फोटो वाला स्टिकर, जिसपर नारा लिखा गया है कि ‘ना भूले हैं, ना भूलने देंगे’ छाया हुआ है. इस संबंध में बिहार बीजेपी के कला एवं संस्कृति प्रकोष्ठ के अध्यक्ष वरुण ने बताया कि बिहार में बीजेपी ने ऐसे 30 हजार स्टिकर और 30 हजार मास्क बनवाए हैं, जिसे अब बांटा गया है.

उन्होंने कहा सुशांत सिंह राजपूत का मौत मामला दिल का है न कि दिमाग का. इसे चुनाव से जोड़ने की बात पर उन्होंने कहा कि सुशांत को न्याय दिलाने के लिए बीजेपी ने अभियान छेड़ा था जो सफल हुआ वहीं, इस संबंध में बिहार बीजेपी के प्रवक्ता निखिल आनंद ने कहा बिहार बीजेपी का कला- संस्कृति मंच विभिन्न विधाओं के कलाकारों का मंच है. मंच के सदस्यगण सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से ही उनके न्याय की मुहिम का समर्थन कर रहे हैं और उन्होने सुशांत के प्रति अपने श्रद्धा- प्रेम के इज़हार का अपना तरीका निकाला है.

उन्होंने कहा कला- संस्कृति मंच के कलाकारों ने बिहार के बेटे और बॉलीवुड के उभरते सितारे के लिए अपनी भावना का उदगार किया है, जिसका हम सभी को सम्मान करना चाहिए.

death of actor Sushant Singh Rajput became Election slogan in Bihar, BJP said,

बिहार बीजेपी ने सुशांत की संदेहास्पद मृत्यु के बाद उनके परिजनों, समर्थकों, प्रशंसकों और शुभचिन्तकों के साथ न्याय की मुहिम का समर्थन किया था बता दें कि बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की इसी साल 14 जून को मुम्बई के बांद्रा स्थित उनके घर से शव बरमाद की गई है. इस घटना में पहले आत्महत्या की बात सामने आई थी, लेकिन परिजनों की मानें तो यह आत्महत्या नहीं है. फिलहाल इस मामले की जांच की जा रही है.

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.