July 20, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

प्रोस्टेट कैंसर के इलाज में कारगर साबित हो सकता है ये नया मालीक्यूल:-

1 min read

आइआइटी गांधीनगर के शोधार्थियों ने एक नए अणु की खोज करने का दावा किया है जिसका उपयोग प्रोस्टेट कैंसर के इलाज में काफी कारगर हो सकता है।

Revisiting Immunotherapy: A Focus on Prostate Cancer | Cancer Research

 

अमेरिका के लुइसियाना स्टेट यूनिवर्सिटी हेल्थ सेंटर और यूनिवर्सिटी आफ मैनचेस्टर के सहयोग से हुए इस शोध के बारे में अंतरराष्ट्रीय जर्नल सेल प्रेस आइसाइंस में रिपोर्ट छापी गई है। शोध का नेतृत्व करने वाली आइआइटी, गांधीनगर की प्रोफेसर शिवप्रिया किरुबाकरन ने बताया कि भारत में हर साल 5.56 लाख लोग कैंसर से मरते हैं। लोगों में कैंसर की दवाओं के प्रति बढ़ती प्रतिरोधकता भी एक बड़ी चिंता का कारण है।

Biologists design new molecules to help stall lung cancer

 

प्रोस्टेट कैंसर पुरुषों में दूसरा सबसे ज्यादा पाया जाने वाला कैंसर है। इसके पनपने के लिए एंड्रोजेन नामक हार्मोन जिम्मेदार है। इसके इलाज का मानक तरीका हार्मोनल थेरेपी या एंड्रोजेन डिप्राइवेशन थेरेपी है। इस थेरेपी से कैंसर की ग्रोथ रोकी जा सकती है। लेकिन जब कैंसर शरीर के दूसरे हिस्सों में फैल जाता है तो यह लाइलाज हो जाता है।

Scientists can now 'listen in' on cancer cells with new technique

 

उन्होने बताया कि हम लोगों ने जे54 नाम का नया मालीक्युल (अणु) खोजा है जो चूहों पर किए गए परीक्षण में बहुत कारगर रहा। खास बात यह है कि अभी तक इस मालीक्यूल का स्वस्थ सेल पर दुष्प्रभाव भी नहीं पाया गया है। उन्होंने कहा कि जेएल54 मालीक्युल एक विशेष प्रोटीन के इलाज के लिए उपयुक्त है।

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.