July 21, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

नौकरी दिलाने के नाम पर चेन्नई ले जाई जा रहीं 31 लड़कियों को बचाया:-

1 min read

झारखंड में लड़कियों को काम दिलाने के नाम पर दलालों द्वारा राज्य से बाहर भेजने के रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है। मामला लातेहार के बालूमाथ थाना क्षेत्र के डाढ़ा ग्राम के नावाबांध का है जहां से बुधवार को विशेष बस से तमिलनाडु ले जाई जा रहीं 31 लड़कियों को पुलिस ने दलालों के चंगुल से बचाया।

हनीमून पर हैवान पति ने पत्‍नी से बनाए अप्राकृतिक यौन संबंध, निजी पलों का  VIDEO बनाकर करने लगा ब्‍लैकमेल | Pune: Twenty four-year-old woman accuses  husband of raping ...
पुलिस सूत्रों ने बताया कि लड़कियों को राज्य से बाहर भेजने के इस काम में क्षेत्र के कई दलाल सक्रिय हैं। उन्हें लड़कियों को भेजने के एवज में मोटी रकम भी मिल रही है। उन्होंने बताया कि बालूमाथ पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर एक तमिलनाडु नम्बर की बस में सवार 31 लड़कियों और महिलाओं को बचाया। सभी लड़कियों को धागा मिल में नौकरी का लालच देकर झारखंड से तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई ले जाया जा रहा था।

बालूमाथ के अंचलाधिकारी रवि कुमार ने बताया कि लातेहार, लोहरदगा, रांची,पलामू सहित कई जिलों से लड़कियों को तमिलनाडु के कृष्णा धागा मिल में ले जाया जा रहा था। तमिलनाडु ले जाई जा रही 31 लड़कियों में 9 नाबालिग थीं।

सरकारी बाल संरक्षण गृह में दो लड़कियां निकली गर्भवती, 57 कोरोना पॉजिटिव -  two girls turned pregnant at child protection home 57 corona positive - UP  Punjab Kesari

पुलिस ने कहा कि पकड़े गए बस के चालक और उपचालक दोनों को हिंदी नहीं आती। इस कारण वो कुछ भी स्पष्ट नहीं बता पा रहे हैं कि वह किस कंपनी के लिए इन्हें लेकर जा रहे हैं। अवैध ढंग से बाहर ले जाई जा रहीं लड़कियों को बालूमाथ स्थित कस्तुरबा बालिका स्कूल में रखा गया है और मामले की छानबीन जारी है।

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.