July 21, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

एमबीबीएस केस में एसआईटी ने की अफसरों से पूछताछ:-

1 min read

पूर्व में 31 कर्मचारियों के दर्ज किए जा चुके है बयान 2018 से एमबीबीएस प्रकरण की जांच कर रही है एसआईटी सीसीएसयू में दो साल पहले हुए एमबीबीएस कॉपी घोटाले की जांच के लिए एसआईटी बुधवार को एक बार फिर अचानक सीसीएसयू पहुंच गई थी। टीम ने गुरुवार को यूनिवर्सिटी के कुछ अधिकारियों के बयान दर्ज किए। टीम अभी भी सीसीएसयू में बनी हुई है।

Mbbs Student Suicide Case Big Revealing About Amrita Kanpur - एमबीबीएस  छात्रा अमृता को लेकर सामने आया चौंकाने वाला सच, जिससे डरती थी, वहीं दी जान  - Amar Ujala Hindi News Live

पूर्व में भी एसआईटी ने 31 कर्मचारियों के बयान दर्ज किए थे, लेकिन इस बार टीम ने अधिकारियों से बातचीत शुरू की है। गुरुवार को सीसीएसयू के कुछ अधिकारियों के बयान दर्ज किए गए, उससे पहले उन्हें टीम की ओर से नोटिस दिया गया था। एसआईटी ने अधिकारियों से मूल्यांकन प्रक्रिया और कॉपियों को ले जाने व उनके रखरखाव की प्रक्रिया को भी जाना।

पकड़ा था गिरोह 18 मार्च 2018 को एसटीएफ मेरठ ने सीसीएसयू में एमबीबीएस की कॉपियां बदलने में शामिल गिरोह का पर्दाफाश किया था। एसटीएफ का दावा था कि यह गिरोह परीक्षा के बाद में विद्यार्थियों की फिर से कॉपियां लिखवाकर उत्तर पुस्तिका विभाग में बदल देता था। इस प्रकरण में सीसीएसयू के कुछ कर्मचारी भी शामिल थे।
एसटीएफ ने पूरे मामले मे कवि राज को मुख्य आरोपी बनाया था। एसटीएफ ने दावा किया था कि कविराज सीसीएसयू के बाहर कॉपियां लिखवाता था और फिर उत्तर पुस्तिका विभाग में इन्हें बदल देता था। एसटीएफ ने इसे गिरफ्तार किया था। उसके बाद हरियाणा से डॉक्टर की बेटी और मुजफ्फरनगर कॉलेज का नाम आने पर एसटीएफ ने इस मामले को एसआईटी को ट्रांसफर कर दिया था।

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.