July 11, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने उत्‍तर प्रदेश के पीएम स्‍वनिधि योजना के लाभार्थियों से बातचीत की :-

1 min read

प्रधानमंत्री ने कहा कि जन धन, आयुष्‍मान, उज्‍ज्‍वला, पी एम स्‍वनिधि जैसी कई सरकारी योजनाओं से लोगों को बेहतर ढंग से कोविड महामारी से लड़ने में मदद मिली है। उन्होंने कहा कि हम लोगों ने दुनिया को ये दिखा दिया है कि हम किसी भी चुनौती का सामना कर सकते हैं और स्थिति को बदल सकते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि बैंक अब देश के गरीबों तक पहुंच रहे हैं और यह सरकार के निरंतर प्रयास का ही परिणाम है।

UP : पीएम स्वनिधि लाभार्थियों से नरेंद्र मोदी 27 अक्टूबर को करेंगे संवाद
श्री मोदी ने पी एम स्‍वनिधि योजना के बारे में कहा कि स्‍ट्रीट वेंडर्स के लिए ऐसी योजना स्‍वतंत्रता के बाद देश में पहली बार शुरू की गई। इस योजना को तेजी से लागू किया जाना महत्‍वपूर्ण है। इसके तहत न सिर्फ तेजी से और डिजिटल माध्‍यम से काम होता है। योजना का लाभ लेने के लिए बिचौलियों की भी जरूरत नहीं होती है।

श्री मोदी ने कहा कि स्‍ट्रीट वेंडर्स की उत्‍तर प्रदेश जैसे बड़े राज्‍यों की अर्थव्‍यवस्‍था में महत्‍वपूर्ण भूमिका है। बेरोजगारी के कारण पलायन की दर को कम करने में भी यह योजना महत्‍वपूर्ण भूमिका निभायेगी।

केन्‍द्र सरकार ने पहली जून 2020 को इस योजना की शुरूआत की थी। कोविड-19 महामारी से प्रभ‍ावित आजीविका गतिविधियों को फिर शुरू करने में स्‍ट्रीट वेंडर्स की सहायता के लिए यह योजना चलाई जा रही है। इसका उद्देश्‍य सब्‍सिडी युक्‍त ब्‍याज दर पर दस हजार रुपये तक का कार्यशील पूंजी ऋण उपलब्‍ध कराना है। इस अवसर पर उत्‍तर प्रदेश के करीब तीन लाख लाभार्थियों को योजना के तहत ऋण अंतरित किया गया।

प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर कुछ लाभार्थियों से बातचीत की। आगरा की प्रीति ने प्रधानमंत्री को बताया कि स्‍वनिधि योजना के तहत मिले दस हजार रुपयों से उसे फल और सब्जियों का कारोबार फिर से शुरू करने में मदद मिली है। उन्होंने कहा कि बैंक खाते में पैसा पहुंचने और सार्वजनिक वितरण प्रणाली के जरिये अनाज प्राप्‍त करने जैसी योजनाओं से लॉकडाउन के दौरान बहुत मदद मिली। प्रधानमंत्री ने उसे डिजि‍टल भुगतान के जरिये ज्‍यादा से ज्‍यादा लेन-देन करने के लिए प्रोत्‍साहित किया, ताकि उसे और अधिक लाभ हो सके। एक अन्य लाभार्थी वाराणसी के अरविंद ने श्री मोदी को बताया कि वह दुर्गाकुंड में मोमोज और कॉफी बेचता है। अरविंद ने कहा कि स्‍वनिधि योजना के तहत मिली राशि से उसे बहुत मदद मिली है और इसकी औचारिकताएं पूरी करने के लिए अधिकारियों के पास भी नहीं जाना पड़ा।

एक और लाभार्थी लखनऊ के विजय बहादुर ने बताया कि इस योजना से मिले पैसे से उसे अपना कारोबार बढ़ाने में मदद मिली है।

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ और राज्‍य के कई मंत्री भी इस अवसर पर मौजूद थे। वर्चुअल माध्‍यम से आयोजित इस कार्यक्रम को राज्‍य के सभी जिलों में प्रसारित किया गया। राज्‍य के सभी 651 स्‍थानीय निकायों में भी इसके प्रसारण की व्‍यवस्‍था की गई।

पी एम स्‍वनिधि योजना के तहत उत्‍तर प्रदेश में रेहडी पटरी के कारोबार से जुड़े करीब सात लाख लोगों की पहचान की गई है। इस योजना के तहत ऋण के लिए छह लाख 40 हजार से अधिक आवेदन मिले। राज्‍य सरकार ने करीब तीन लाख 62 हजार स्‍ट्रीट वेंडर्स के ऋण मंजूर किये जिनमें से करीब तीन लाख लोगों को आज ऋण वितरित किया गया।

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.