May 8, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

JNU हिंसा: आरोपी छात्रों को क्राइम ब्रांच ने पूछताछ के लिए भेजा नोटिक

1 min read

नई दिल्‍ली. जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में 5 जनवरी को हुई हिंसा के मामले में पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है. दिल्‍ली पुलिस ने इस मामले में यूनिवर्सिटी के 9 छात्रों का फोटो सार्वजनिक कर उन्‍हें हिंसा का आरोपी बताया था. अब दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने इन सभी आरोपियों को नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए तलब किया है. इन सभी आरोपी छात्रों को सोमवार (13 जनवरी 2020) को कमला मार्केट स्थित क्राइम ब्रांच के SIT दफ्तर में पेश होने को कहा गया है. इन सभी से JNU हिंसा ममाले में यहीं पर पूछताछ की जाएगी.

बता दें कि JNU में 5 जनवरी को कुछ नकाबपोशों ने छात्रों पर हमला कर दिया था, जिसमें कई छात्र-छात्राएं घायल हो गए थे. इस घटना से JNU परिसर में अफरातफरी के हालात पैदा हो गए थे.

व्हाट्सएप ग्रुप के 37 लोगों की पहचान

स्टिंग में यह बात भी सामने आई थी कि हिंसा की योजना एक  व्हाट्सएप ग्रुप में बनी थी. यूनिटी अगेंस्ट लेफ्ट नामक इस ग्रुप से जुड़े 37 से अधिक लोगों की पहचान भी क्राइम ब्रांच की एसआईटी ने कर ली है. क्राइम ब्रांच के अनुसार इन्हें भी जल्द ही नोटिस भेजी जाएगी.

छात्राओं को समय और जगह बताने को कहा
नौ आरोपी छात्रों में छात्राएं भी शामिल हैं. दिल्‍ली पुलिस ने उन्‍हें भी नोटिस जारी किया है. पुलिस ने छात्राओं से खुद ही पूछताछ का समय और जगह बताने को कहा गया है, ताकि वे बिना किसी दिक्‍कत के समय पर आकर पूछताछ में शामिल हो सकें. इसक अलावा आरोपी छात्रों को कमला नगर स्थित एसआईटी के कार्यालय में पेश होने को कहा गया है. पुलिस ने बताया कि पूछताछ के लिए पेश न होने वाले छात्रों को दोबारा से नोटिस जारी कर तलब किया जाएगा.

जेएनयू में हुई हिंसा के खिलाफ देश के कई हिस्‍सों में विरोध-प्रदर्शन हुआ. देश के अन्‍य शैक्षिक संस्‍थानों के छात्र भी इसमें शामिल हुए. राजनीतिक दलों के हस्‍तक्षेप के बाद इस विवाद ने राजनीतिक रूप भी ले लिया है. बता दें कि जेएनयू में वामपंथी छात्र संगठनों और ABVP एक-दूसरे पर हिंसा करने का आरोप लगा रहे हैं. वहीं, दिल्‍ली पुलिस की ओर से जारी फोटो में दोनों पक्षों के कार्यकर्ताओं के नाम शामिल हैं.

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.