July 19, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

पूर्व कर्मचारी के सम्मान में टाटा ने बड़े ही लाड से किया कार का नामकरण :–

1 min read

टाटा मोटर्स की बेहद लोकप्रिय कार रही टाटा सुमो के नाम को लेकर अकसर लोग यह सोचते हैं कि शायद इसके साइज के चलते इसे यह नाम दिया गया था. लेकिन, यह सच नहीं है और इसका नाम रखे जाने की कहानी बेहद दिलचस्प है| दरअसल टाटा ग्रुप ने इस 10 सीटर का नाम टाटा मोटर्स के पूर्व एमडी सुमंत मुलगावकर के नाम पर रखा गया था|

Ratan Tata ने अपनी सबसे कामयाबी गाड़ी का नाम कर्मचारी के सम्मान में क्यों  रखा - YouTube

उनके नाम के पहले और दूसरे के अक्षर के शुरूआती वर्ड्स का इस्तेमाल कर सुमो नाम रखा गया था| यह नाम टाटा मोटर्स के लिए काफी लकी रहा और टाटा सुमो कार जमकर बिकी थी. खासतौर पर ट्रैवल्स के मकसद के लिए और बड़ी गाडिय़ों के शौकीन लोगों ने टाटा सुमो का काफी पसंद किया था| कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखने वाले टाटा ग्रुप के चेयरमैन रतन टाटा के कामकाज के तरीके की यह एक बानगी है|

ratan tata marriage stopped due to india china war in 1962 - 1962 में  भारत-चीन युद्ध की वजह से अटकी थी रतन टाटा की शादी, अब तक हैं अविवाहित,  जानें- पूरा किस्सा - Jansatta

टाटा मोटर्स ने रियर व्हील ड्राइव एसयूवी टाटा सुमो को 1994 में लांच किया| टाटा सुमो को 10 सीटर कार के रूप में लॉन्च किया गया था| इसको मिलिट्री उपयोग और ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट के उद्देश्य से लॉन्च किया गया था| टाटा सुमो को लॉन्चिंग के बाद इसे बड़ी कामयाबी मिली थी और 1997 तक एक लाख से ज्यादा सुमो कारों की बिक्री हो गई थी. फिलहाल टाटा मोटर्स दुनिया की सबसे बड़ी ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स में से एक है|

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.