July 14, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

बड़ी खबर : नेपाल 40 एकड़ में बनाने जा रहा है अयोध्यापुरी

1 min read

नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के विवादित दावे के बाद अब नेपाल ने अयोध्या बनाने की ठान ली है. नेपाल के चितवन जिले की नगरपालिका 40 एकड़ की जमीन पर अयोध्यापुरी धाम का निर्माण करने जा रही है. काठमांडू पोस्ट के मुताबिक चितवन जिले की माडी नगरपालिका ने अयोध्यापुरीधाम बनाने के लिए 40 एकड़ जमीन आवंटित करने का फैसला किया है.

इससे पहले नेपाल के प्रधानमंत्री ओली ने दावा किया था कि चितवन में ही भगवान राम का जन्म हुआ था और असली अयोध्या भी यहीं हैं. नेपाल नेशनल न्यूज एजेंसी से माडी के मेयर ठाकुर प्रसाद धाकल ने बताया कि 29 सितंबर को हुई बैठक में धाम को लेकर फैसला किया गया है. बता दें कि ओली ने भारत की अयोध्या को नकली कहा था जिसके बाद काफी विवाद भी हुआ था.

 बता दें कि नेपाल और भारत के बीच पहले से ही सीमा विवाद को लेकर तनाव है, ऐसे में नेपाल के इस फैसले के बाद ये तनाव और बढ़ता ही नज़र आ रहा है. माडी के मेयर धाकल ने कहा, हमने वर्तमान में अयोध्यापुरी पार्क की 40 एकड़ जमीन अयोध्यापुरी धाम के लिए आवंटित की है. (फोटो- PTI)

बता दें कि नेपाल और भारत के बीच पहले से ही सीमा विवाद को लेकर तनाव है, ऐसे में नेपाल के इस फैसले के बाद ये तनाव और बढ़ता ही नज़र आ रहा है. माडी के मेयर धाकल ने कहा, हमने वर्तमान में अयोध्यापुरी पार्क की 40 एकड़ जमीन अयोध्यापुरी धाम के लिए आवंटित की है.

 ओली ने विवादित दावे के बाद माडी नगरपालिका के साथ बैठक की थी और ज्यादा सबूत जुटाने के लिए पुरातात्विक खुदाई करने के निर्देश दिए थे. ओली ने माडी नगरपालिका को हर तरह से सहयोग देने की भी बात कही थी. मेयर धाकल ने कहा, हमारे पास 50 बीघा अतिरिक्त जमीन है, अगर हमें कोई तकनीकी दिक्कत आती है तो हम इस जमीन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. (फोटो- PTI)

ओली ने विवादित दावे के बाद माडी नगरपालिका के साथ बैठक की थी और ज्यादा सबूत जुटाने के लिए पुरातात्विक खुदाई करने के निर्देश दिए थे. ओली ने माडी नगरपालिका को हर तरह से सहयोग देने की भी बात कही थी. मेयर धाकल ने कहा, हमारे पास 50 बीघा अतिरिक्त जमीन है, अगर हमें कोई तकनीकी दिक्कत आती है तो हम इस जमीन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

 धाकल के मुताबिक अयोध्यापुरी धाम के लिए मास्टर प्लान तैयार कर लिया गया है और जल्द ही एक विस्तृत रिपोर्ट तैयार कर ली जाएगी. बता दें कि राम सम्बंधित ओली के बयान पर नेपाल के विदेश मंत्रालय को इसे लेकर स्पष्टीकरण भी जारी करना पड़ा था. इस बयान में कहा गया था कि ओली के बयान का मकसद किसी की धार्मिक भावनाओं को आहत करने या अयोध्या की महत्ता को कम करने का नहीं था. ओली सिर्फ नेपाल की सांस्कतिक विरासत के बारे में ज्यादा जानकारी जुटाने की बात कर रहे थे. (फोटो- PTI)

धाकल के मुताबिक अयोध्यापुरी धाम के लिए मास्टर प्लान तैयार कर लिया गया है और जल्द ही एक विस्तृत रिपोर्ट तैयार कर ली जाएगी. बता दें कि राम सम्बंधित ओली के बयान पर नेपाल के विदेश मंत्रालय को इसे लेकर स्पष्टीकरण भी जारी करना पड़ा था. इस बयान में कहा गया था कि ओली के बयान का मकसद किसी की धार्मिक भावनाओं को आहत करने या अयोध्या की महत्ता को कम करने का नहीं था. ओली सिर्फ नेपाल की सांस्कतिक विरासत के बारे में ज्यादा जानकारी जुटाने की बात कर रहे थे.

 हालांकि हर बवाल के बावजूद प्रधानमंत्री ओली ने ठोरी और माडी के स्थानीय जनप्रतिनिधियों को काठमांडू बुलाकर भगवान श्रीराम की जन्मभूमि पर भव्य मंदिर बनाने के लिए सभी आवश्यक तैयारी करने के निर्देश दिए थे. प्रधानमंत्री ने ठोरी के पास स्थित माडी नगरपालिका का नाम बदलकर अयोध्यापुरी रखने को भी कहा है. साथ ही वहां के आसपास के स्थानों का अधिग्रहण कर अयोध्या के रूप में विकसित करने, राम के जन्मस्थान पर भव्य राम मंदिर का निर्माण और राम-सीता और लक्ष्मण की बड़ी प्रतिमा स्थापित करने को कहा है. (फोटो- PTI)

हालांकि हर बवाल के बावजूद प्रधानमंत्री ओली ने ठोरी और माडी के स्थानीय जनप्रतिनिधियों को काठमांडू बुलाकर भगवान श्रीराम की जन्मभूमि पर भव्य मंदिर बनाने के लिए सभी आवश्यक तैयारी करने के निर्देश दिए थे. प्रधानमंत्री ने ठोरी के पास स्थित माडी नगरपालिका का नाम बदलकर अयोध्यापुरी रखने को भी कहा है.

 नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) के विवादित दावे के बाद अब नेपाल ने अयोध्या बनाने की ठान ली है. नेपाल के चितवन जिले की नगरपालिका 40 एकड़ की जमीन पर अयोध्यापुरी धाम (Ayodhyapuri Dham) का निर्माण करने जा रही है. काठमांडू पोस्ट के मुताबिक चितवन जिले की माडी नगरपालिका ने अयोध्यापुरीधाम बनाने के लिए 40 एकड़ जमीन आवंटित करने का फैसला किया है. (फोटो- PTI)

साथ ही वहां के आसपास के स्थानों का अधिग्रहण कर अयोध्या के रूप में विकसित करने, राम के जन्मस्थान पर भव्य राम मंदिर का निर्माण और राम-सीता और लक्ष्मण की बड़ी प्रतिमा स्थापित करने को कहा है.

 ओली ने इस दशहरे में रामनवमी के अवसर पर भूमि पूजन करते हुए मंदिर निर्माण का काम शुरू करने और दो साल बाद की रामनवमी पर मूर्ति का अनावरण करने के हिसाब से काम को आगे बढ़ाने की बात कही है. प्रधानमंत्री ओली ने कहा है कि अयोध्यापुरी के साथ ही रामायण से जुड़े आसपास के क्षेत्रों को भी विकसित किया जाएगा. उन्होंने माडी के पास रहे वाल्मिकी आश्रम, सीता के वनवास के दौरान रहे जंगल, लवकुश का जन्मस्थान आदि क्षेत्रों को भी विकसित करने को कहा है. (फोटो- PTI)

ओली ने इस दशहरे में रामनवमी के अवसर पर भूमि पूजन करते हुए मंदिर निर्माण का काम शुरू करने और दो साल बाद की रामनवमी पर मूर्ति का अनावरण करने के हिसाब से काम को आगे बढ़ाने की बात कही है.

 इससे पहले नेपाल के प्रधानमंत्री ओली ने दावा किया था कि चितवन में ही भगवान राम का जन्म हुआ था और असली अयोध्या भी यहीं हैं. नेपाल नेशनल न्यूज एजेंसी से माडी के मेयर ठाकुर प्रसाद धाकल ने बताया कि 29 सितंबर को हुई बैठक में धाम को लेकर फैसला किया गया है. बता दें कि ओली ने भारत की अयोध्या को नकली कहा था जिसके बाद काफी विवाद भी हुआ था. (फोटो- PTI)

प्रधानमंत्री ओली ने कहा है कि अयोध्यापुरी के साथ ही रामायण से जुड़े आसपास के क्षेत्रों को भी विकसित किया जाएगा. उन्होंने माडी के पास रहे वाल्मिकी आश्रम, सीता के वनवास के दौरान रहे जंगल, लवकुश का जन्मस्थान आदि क्षेत्रों को भी विकसित करने को कहा है.

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.