July 19, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

दरोगा की वर्दी पहनकर करता था स्मगलिंग, फेक आईडी-आधार और पिस्टल के साथ पकड़ा गया:-

1 min read

वहां से असलहे की खेप कार में लाद लेता था। पुलिस वर्दी में वह खुद आगे की सीट पर बैठता था। यह फॉर्मूला अच्छे से काम कर रहा था। नतीजा बिजनेस चमक रहा था। उसके द्वारा लाए गए असलहों की सप्लाई गैंग के दो अन्य गुर्गे किया करते थे। उसके चेहरे से वर्दी का नकाब उस वक्त हटा, जब इंटेलीजेंस विंग/सर्विलांस/इंस्पेक्टर शाहगंज को शक हो गया। ज्वाइंट रूप से टीम ने घेराबंदी करके असलहों के साथ तीनों को दबोच लिया। क्राइम ब्रांच ने भी चार पिस्टल संग एक शातिर को गिरफ्तार किया।

BPOs centre of cyber fraud: Delhi Police
नाम – रवि खान उर्फ रवि नट

पिता – स्वर्गीय नन्हू खान

पता – रामनाथपुर हनुमानगंज

थाना – सरायइनायत

काम – असलहा तस्करी

गैंग की गिरफ्तारी का खुलासा मंगलवार को एसपी क्राइम आशुतोष मिश्र ने किया। कहा कि गैंग के लोकेशन की पुख्ता खबर पुलिस टीम को भोर में मिली थी। सटीक सूचना पर टीम काल्विन हॉस्पिटल के पुराने गेट पर पहुंच गयी। एसपी क्राइम द्वारा बतायी गयी स्टोरी के मुताबिक तीन लोग बाइक से आते हुए दिखे। पुलिस टीम ने रोका तो उन्होंने गाड़ी की रफ्तार बढ़ा दी। पुलिस वालों ने पीछा किया और घेराबंदी करके पकड़ लिया। तलाशी में इनके पास दो पिस्टल, चार जिंदा कारतूस, एक तमंचा 315 बोर, दो जिंदा कारतू 315 बोर, नौ देशी बम मिले। पूछताछ में एक ने अपना नाम कृष्णा राज निवासी लालापुर थाना उतरांव तो दूसरे मनोज पासी निवासी खानीपुर हनुमानगंज थाना सरायइनायत बताया। तीसरे ने अपना नाम रवि खान उर्फ रवि नट बताया। मनोज व कृष्णा ने बताया कि तीनों असलहों की बिक्री करते हैं। गैंग का सरगना रवि खान है।

Peel police warn of Instagram scam | BramptonGuardian.com
दरोगा की वर्दी पहन कर वह कार से पिस्टल और तमंचे को एमपी जिले से लाया करता था। सरगना रवि ने कहा कि वह सिर्फ लाने का काम करता है। सप्लाई का काम मनोज और कृष्णा राज ही करते हैं। इनके कब्जे से उत्तर प्रदेश पुलिस की एक आईडी भी मिली। इस पर दरोगा की वर्दी में रवि खान की फोटो लगी है। रवि का आधार कार्ड भी पुलिस द्वारा फर्जी बताया गया। बताया गया कि रवि खान के खिलाफ सरायइनायत में कुल 14 मुकदमे दर्ज हैं। एसपी क्राइम ने बताया कि क्राइम ब्रांच ने भी टीवी टॉवर चौराहा राजापुर से चार पिस्टल के साथ अमित तिवारी पुत्र जयशंकर तिवारी निवसी सुकुलपुर मेजा को दबोचा है।

3 cops involved in Rs 1 crore heist may be habitual offenders' | Navi  Mumbai News - Times of India

‘वर्दी का सहारा लेकर असलहा तस्करी करने वाला पुलिस की छवि खराब कर रहा था। सूचना मिलने पर पड़ताल में यह खुलासा हुआ तो उसे धर दबोचा गया है।’

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.