December 4, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

एक समय जीनत और संजय खान का रिश्ता सुर्खियों में रहा

1 min read

बॉलीवुड की हसीन अदाकारा जीनत अमान (Zeenat Aman) आज अपना 68वां जन्मदिन मना रही हैं. वैसे उन्हें पर्दे पर धूम मचाते देख, यकीन नहीं होता कि उन्होंने निजी जिंदगी में इतना दर्द सहा होगा. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो एक समय जीनत और संजय खान का रिश्ता सुर्खियों में रहा था. संजय खान के लिए कहा जाता है कि वह शॉर्ट टैंपर थे. इसका जिक्र खुद संजय खान ने अपनी बायोग्राफी ‘द बिग मिस्टेक्स ऑफ माय लाइफ’ में भी किया था. दरअसल, ताज होटल में एक पार्टी के दौरान संजय खान ने जीनत की सबके सामने पिटाई कर दी थी. ये मार इतनी दर्दनाक थी कि उनकी एक आंख पर उसके निशान आज भी दिखते हैं. इन्हीं वजहों के कारण संजय और जीनत का रिश्ता नहीं चल पाया.

इसके बाद जीनत ने पाकिस्तानी एक्टर मजहर खान से शादी की थी, लेकिन दोनों के बीच झगड़े होने लगे. मारपीट की खबरें अखबारों की सुर्खियां बटोरने लगीं. इन दोनों के दो बेटे जहान और अजान भी हुए, लेकिन दोनों के झगड़े तब भी जारी थे. इसके बाद मजहर की किडनी में इंफेक्शन हो गया और वह बीमार रहने लगे. बीमारी के कारण रिश्ते में दूरी और बढ़ती गई, जिसके बाद जीनत ने तलाक की अर्जी डाल दी, लेकिन तलाक से पहले ही मजहर दुनिया को छोड़कर चले गए.

‘मिस इंडिया पैसेफिक’ रह चुकीं जीनत ने अपने करियर की शुरुआत ओपी रल्हन की फिल्म ‘हलचल’ से की थी और फिर ओपी रल्हन की ही फिल्म ‘हंगामा’ में उन्होंने काम किया, लेकिन दोनों ही फिल्में बॉक्स ऑफिस पर धड़ाम हो गईं. सही मायने में उन्हें सफलता ‘हरे रामा हरे कृष्णा’ फिल्म से मिली. इसमें उन्होंने देवानंद की बहन की भूमिका निभाई थी. 1978 में राजकपूर की फिल्म ‘सत्यम शिवम सुंदरम’ को जीनत के लिए मील का पत्थर माना जाता है. यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ कमाल तो नहीं दिखा पाई, लेकिन जीनत के लुक और अभिनय की खूब चर्चा हुई. ‘डॉन’, ‘इंसाफ का तराजू’ और ‘कुर्बानी’ से उन्होंने अभिनय की ऐसी छाप छोड़ी, जिसे भुलाया नहीं जा सकता. लंबे समय के बाद एक बार फिर वह बड़े पर्दे पर वापसी कर रही हैं. जीनत जल्द ही आशुतोष गवारिकर की मोस्ट अवेटेड फिल्म ‘पानीपत’ में नजर आने वाली हैं. इस फिल्म में संजय दत्त, अर्जुन कपूर और कृति सेनन भी अहम भूमिकाओं में नजर आने वाली हैं.

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.