May 8, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

फेसबुक पर हुआ प्यार,दोनों ने भागकर कर ली शादी पकड़े गए तो छात्रा ने अपने ही पिता को पहचानने से किया इनकार

1 min read

फेसबुक का प्यार इस कदर छात्र-छात्रा पर सवार हुआ कि दोनों घर से भागकर पहले हरिद्वार पहुंचे। इसके बाद देहरादून के एक होटल के कमरे में रात गुजारने के बाद मसूरी रोड कोठाल गेट स्थित एक मंदिर में शादी कर ली। पैसे खत्म होने के बाद शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन पहुंचे। यहां से छात्र के पिता ने दोनों को इज्जत नगर पुलिस के हवाले कर दिया। छात्रा ने अपने पिता को पहचाने से ही इंकार कर दिया। पुलिस ने बताया कि छात्रा के कोर्ट में बयान होने हैं, उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

इज्जत नगर के बसंत विहार कॉलोनी फेस टू निवासी कृषि विभाग में क्लर्क हैं। उनकी नाबालिग बेटी नवाबगंज के एक कॉलेज की बीएससी प्रथम वर्ष की छात्रा है। शाहजहांपुर के पुवायां निवासी कपड़ा व्यापारी का 17 वर्षीय बेटा इंटर का छात्र है। छात्र ने छात्रा को फेसबुक पर मार्च में फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी। फिर दोनों की चैटिंग शुरू हुई और फिर नंबर एक्सचेंज होने के बाद घंटों फोन पर बात हुई। इस बीच छात्र के पिता ने दो बार बात करते पकड़ा और मोबाइल तोड़ दिया।

26 नवंबर को दोनों घर से कपड़े सहित कुछ सामान लेकर फरार हो गए। रोडवेज बस से वे पहले हरिद्वार पहुंचे। दोनों देहरादून रवाना हुए। छात्र के दोस्त ने होटल में कमरा दिलवाया था। उधर, लड़की के पिता ने इज्जतनगर थाने और लड़के के पिता ने शाहजहांपुर के पुवायां थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी। दो दिन देहरादून में काटने के बाद मसूरी रोड कोठालगेट स्थित एक मंदिर में दोनों ने शादी कर ली। एक हफ्ते बाद जब पैसे खत्म हो गए तो दोस्त ने भी साथ छोड़ दिया। खाना खाने के लिए जब पैसे नहीं बचे तो छात्र प्रेमिका को लेकर शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन पहुंचा। यहां फोन कर पिता को सूचना दी।

छात्रा ने पिता को पहचानने से किया इंकार

बेटी की जानकारी होते ही पिता फौरन इज्जत नगर थाने पहुंचे। यहां उन्होंने बेटी से बात करने का प्रयास किया तो बेटी ने पहचानने से ही इंकार कर लिया। उसने कहा कि यह मेरे पिता नहीं हैं। यह देख पिता की आंखें भर आईं। उन्होंने पुलिस को लिखकर दे किया कि दोनों की फेसबुक पर दोस्ती हुई थी उसके बाद आरोपी छात्र उनकी बेटी को भगा ले गया।

पिता ने बेटी से तोड़ा रिश्ता

इज्जतनगर थाने में जब बेटी ने पिता को पहचानने से कर दिया इंकार तो बेबस पिता ने दिल पर पत्थर रखकर बेटी से सभी रिश्ते खत्म कर लिए। उन्होंने लिखकर दे दिया कि उनका बेटी के साथ अब कोई रिश्ता नहीं है। वहीं, दो साल पहले भी 26 नवंबर को छात्रा प्रेमी साथ फरार हो गई थी। तब वह खुद ही घर पर आ गई थी। काफी पूछने पर भी उसने कुछ नहीं बताया था।

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.