April 15, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

बेखौख तुर्की ने दी अमेरिका को सख्‍त चेतावनी, अगर वाशिंगटन ने प्रतिबंध लगाया तो …

1 min read

तुर्की समकक्ष राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने 13 नवंबर को वाशिंगटन आने का उनका निमंत्रण स्वीकार कर लिया है। उन्होंने था कि वह तुर्की समकक्ष से मिलने के लिए उत्सुक है। राष्ट्रपति ट्रंप ने तुर्की के राष्ट्रपति के साथ फोन पर बातचीत की उसके बाद उनके व्हाइट हाउस आने का एलान किया था। दोनों नेताओं के बीच फोन पर बातचीत हुई थी। 

दो महीने पूर्व तुर्की राष्‍ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन की अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप से फोन पर बात की थी। इसके बाद 19 अक्‍टूबर को सीरिया में संघर्ष विराम को लेकर अमरीकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने तुर्की की यात्रा की थी। उनकी इस यात्रा का लक्ष्‍य उत्‍तरी सीरिया में तुर्की हमले को रोकना था। यह यात्रा ऐसे समय हुई थी, जब तुर्की ने यूरोप और अमेरिका के आग्रह को दरकिनार करते हुए उत्‍तर सीरिया में कुर्द पर अपने हमले जारी रखे हुए था। उपराष्‍ट्रपति ने तुर्की के राष्‍ट्रपति रेसेप तैयब एर्दोगन से मुलाकात कर शांति के लिए आग्रह भी किया था लेकिन उनकी यात्रा के कुछ घंटे ही बीते थे कि तुर्की ने उत्‍तर सीरिया पर फ‍िर हमला बोल दिया। अमेरिका का यह प्रयास भी निष्‍फल रहा।

अमेरिका किसी तरह का प्रतिबंध लगाता है तो उसको उसी भाषा में जवाव देंगे। बता दें कि यह एयरबेस तुर्की के शहर अदाना में स्थित है। अमेरिका की वायु सेना इसका उपयोग करती है।

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.