June 22, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

नई कंपनी से कार इंश्योरेंस रिन्यू करने पर भी मिलता है नो क्लेम बोनस

1 min read

वाहन बीमा (कार इंश्योरेंस) के नवीनीकरण के वक्त दूसरी कंपनियों के ऑफर भी आते हैं और वे हम कम प्रीमियम पर इंश्योरेंस की पेशकश करते हैं। लेकिन यह भी कहा जाता है कि कंपनी बदलने पर उसे नो क्लेम बोनस का लाभ नहीं मिलेगा, लेकिन यह गलत दावा है।

पहले जान लें सारी डिटेल्स 
नो क्लेम बोनस का किसी कंपनी से लेना-देना नहीं है, इसे आसानी से पोर्ट किया जा सकता है। पॉलिसी बाजार डॉट कॉम में जनरल इंश्योरेंस के मुख्य कारोबारी अधिकारी तरुण माथुर का कहना है कि नो क्लेम का पॉलिसीधारक से संबंध होता है, न कि वाहन से। माथुर ने कहा कि हर कंपनी जोखिम का आकलन अपने स्तर पर करती है, इसलिए प्रीमियम अलग होता है। पॉलिसी की विशेषताएं भी अलग होती हैं। जैसे कुछ कंपनियां जीरो डिप्रिसिएशन की सीमा तय करती है और कुछ नहीं। सिर्फ प्रीमियम पर ध्यान न दें। कंपनी बदलते वक्त हमें सिर्फ प्रीमियम पर ही ध्यान नहीं देना चाहिए। कंपनी बीमा के क्या एडऑन पैकेज दे रही है। जीरो डिप्रिसिएशन या इंजन कवर की बारीकी भी जानें।

ऐसे उठाएं फायदा
नो क्लेम बोनस के तहत अगर आपने किसी साल वाहन पर कोई क्लेम नहीं लिया है तो कंपनी अगले साल बोनस के तौर पर प्रीमियम में कुछ कमी कर देती है। पहले साल नो क्लेम पर प्रीमियम का 20% छूट मिलती है। इसके बाद आने वाले सालों में यह छूट 5-5 प्रतिशत रहती है, जब तक यह 50 फीसदी नहीं हो जाता है। पांच साल तक अगर आपने गाड़ी पर कोई क्लेम नहीं लिया है तो आपको इस बोनस का लाभ नई गाड़ी के प्रीमियम पर भी मिल सकता है।

31 मार्च से पहले कर लें ये 5 काम, नहीं तो फंस जाएंगे मुसीबत में

किस पर मिलता है जीरो डिप्रिसिएशन
जीरो डिप्रिसिएशन कवर पांच साल तक पुरानी गाड़ी पर मिलता है। इसमें गाड़ी के हर हिस्से पर कवर मिलता है और टायर, बैटरी या कोई अन्य हिस्सा बीमा के दायरे से बाहर नहीं रहता। दुर्घटना में किसी भी उपकरण को नुकसान होने पर बीमा कंपनी किसी उपकरण के रिप्लेसमेंट की पूरी लागत को वहन करती है। इसमें फाइबर, रबर या धातुओं से बने उपकरणों के कवरेज में कोई कटौती नहीं होती। इससे प्रीमियम 15-20 प्रतिशत अतिरिक्त बढ़ता है। कार पुरानी होने के बावजूद आपको रिप्लेसमेंट का पूरा पैसा मिलता है।

अलग हिस्से के लिए अलग ले सकते हैं कवर
वाहन बीमा के साथ किसी विशेष हिस्से का अलग कवर लिया जा सकता है। जैसे कार के इंजन का अलग से कवर लिया जा सकता है। सामान्य बीमा में इंजन और उसके कलपुर्जे कवर नहीं होते हैं। कार कहीं पर जाम हो जाने का भी कवर मिलता है।

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.