July 13, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

कृषि बिल को लेकर पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने मोदी सरकार पर बोला हमला

1 min read

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के कृषि विधेयकों को किसान विरोधी करार देते हुए समाजवादी पार्टी ने राज्य सभा में विधेयक पारित कराए जाने की निंदा की है. पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने मोदी सरकार के कृषि बिल पास कराए जाने को भाजपा का पतन-पत्र बताया है.

अखिलेश यादव ने रविवार को इस मामले में ट्वीट करते हुए लिखा भाजपा ने कृषि बिल पारित कराने के लिए ‘ध्वनि मत’ की आड़ में राज्यसभा में किसानों व विपक्ष की आवाज़ का गला दबाया है व अपने कुछ चुनिंदा पूंंजीपतियों व धन्नासेठों के लिए भारत की 2/3 जनसंख्या को धोखा दिया है उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक कपट कर भाजपा ने कृषि बिल नहीं अपना ‘पतन-पत्र’ पारित कराया है.

उधर, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने राज्यसभा में कृषि विधेयकों के पास होने का स्वागत किया है. उन्होंने कहा कि दोनों विधेयक कृषि क्षेत्र में व्यापक बदलाव लाने वाले सिद्ध होंगे. ये दोनों विधेयक कृषि और कृषकों के हित में हैं. गौरतलब है कि राज्यसभा ने कृषि उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्द्धन और सरलीकरण) विधेयक-2020, कृषक (सशक्तीकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन समझौता और कृषि सेवा पर करार विधेयक-2020 को मंजूरी दे दी है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देश में कृषि सुधार के दो महत्वपूर्ण विधेयकों – ‘कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक, 2020’ तथा ‘कृषक (सशक्तीकरण व संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक, 2020’ का स्वागत किया. उन्होंने कहा कि दोनों विधेयक कृषि क्षेत्र में व्यापक बदलाव लाने वाले सिद्ध होंगे. ये दोनों विधेयक पूर्ण रूप से कृषि और कृषकों के हित में हैं.

योगी ने इस विधेयक के राज्यसभा में पास होने पर प्रधानमंत्री के प्रति आभार ज्ञापित किया. उन्होंने कहा कि अब किसानों को कानूनी बंधनों से आजादी मिलेगी. किसानों को उनकी उपज की पूरी कीमत प्राप्त होगी. मुख्यमंत्री योगी की ओर से यह बयान यूपी अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने दिया है.

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.