April 21, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

जापान में पहली बार एक साल में जन्मे नौ लाख से भी कम बच्चे.

1 min read

 कम बच्चे और कम युवा आबादी देश के लिए संकट बनी हुई है। इसके चलते शादीशुदा महिलाओं को दूसरा बच्चा पैदा करने के लिए दबाव बनाया जा रहा है ताकि जनसंख्या बढ़ा सके और देश की जन्म दर भी बढ़ सके।

घटती जनसंख्या की चिंता के बीच जापान सरकार ने उम्मीद जताई है कि इस साल जन्मदर पिछले साल के 1.42 प्रतिशत से कुछ अधिक 1.8 प्रतिशत रहेगी। जापान की मौजूदा आबादी करीब 12.68 करोड़ है।

जापान की आबादी बुजुर्गो की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इसका असर देश की सामाजिक और आर्थिक स्थिति पर भी पड़ रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, जापान में ज्यादातर युवा शादी से भी इन्कार कर रहे हैं। 

ताजा आंकड़ों से यह भी पता चलता है कि जापान में इस साल जन्म की तुलना में मौत का आंकड़ा पांच लाख 12 हजार ज्यादा रहा। यह भी जन्म और मृत्यु में अब तक का सबसे बड़ा अंतर है।

जापान के जनकल्याण मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, 2019 में देश में सिर्फ आठ लाख 64 हजार बच्चों ने जन्म लिया। देश में 1899 से जनसंख्या संबंधी आंकड़े जुटाने की व्यवस्था शुरू हुई थी, तब से यह शिशु जन्म का सबसे कम आंकड़ा है। वर्ष 2018 में देश में नौ लाख 18 हजार चार सौ बच्चे जन्मे थे।

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.