April 15, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

जेके लोन अस्पताल में 100 बच्चों की मौत पर अशोक गहलोत का बयान- न हो राजनीति

1 min read

जयपुर : राजस्थान के कोटा स्थित जेके लोन अस्पताल में 100 बच्चों की मौत पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सफाई दी है।

जेके लोन अस्पताल प्रशासन ने बताया कि दिसंबर 2018 में इसी अस्पताल में 77 बच्चों की मौत हो गई थी। अस्पताल के सुपिरिंटेंडेंट डॉ. सुरेश दुलारा ने बताया कि 30 दिसंबर को 4 बच्चों और 31 दिसंबर को 5 बच्चों की मौत हो गई।

इस बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सिलसिलेवार ट्वीट के जरिए सफाई देते हुए कहा है कि जेके लोन अस्पताल में बच्चों की मौत पर उनकी सरकार संवेदनशील है और इस मसले पर सियासत नहीं होनी चाहिए। इससे पहले बीजेपी के अलावा बीएसपी चीफ मायावती ने भी इस मुद्दे पर कांग्रेस को निशाने पर लिया था। बता दें कि दिसंबर महीने में अस्पताल में 100 बच्चों की मौत हो चुकी है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी इस मुद्दे को लेकर काफी गंभीर हैं। राजस्थान कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडे से उन्होंने चर्चा की है।

बच्चों के ICU की स्थापना हमने की थी’
गहलोत ने एक और ट्वीट में कहा, ‘मां और बच्चे स्वस्थ रहें यह हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। राजस्थान में सर्वप्रथम बच्चों के ICU की स्थापना हमारी सरकार ने 2003 में की थी। कोटा में भी बच्चों के ICU की स्थापना हमने 2011 में की थी। स्वास्थ्य सेवाओं में और सुधार के लिए भारत सरकार के विशेषज्ञ दल का भी स्वागत है। हम उनसे विचार-विमर्श और सहयोग से प्रदेश में चिकित्सा सेवाओं में सुधार के लिये तैयार हैं। निरोगी राजस्थान हमारी प्राथमिकता है। मीडिया किसी भी दबाव में आए बिना तथ्य प्रस्तुत करे, स्वागत है।’

पिछले 6 साल में कोटा के जेके लोन अस्पताल में इतने शिशुओं की मौत

सालभर्ती बच्चेमौतफीसदी
201415,7191,1987.62
201517,5691,2607.17
201617,8921,1936.66
201717,2161,0275.96
201816,4361,0056.11
201916,9159635.69

सोनिया गंभीर, गहलोत ने भेजी रिपोर्ट
कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बृहस्पतिवार को पार्टी के राज्य प्रभारी अविनाश पांडे से ताजा हालात और अशोक गहलोत सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी ली। सूत्रों के मुताबिक, कोटा के अस्पताल में बच्चों की मौत को लेकर दुख जाहिर करते हुए सोनिया ने पांडे के जरिए राज्य सरकार को यह संदेश दिया कि इस मामले में और ठोस कदम उठाए जाएं।

सोनिया से मुलाकात के बाद पांडे ने मीडिया से बातचीत में कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कांग्रेस अध्यक्ष के पास एक विस्तृत रिपोर्ट भेजी है। उन्होंने कहा, ‘आज की मुलाकात में कई मुद्दों पर चर्चा हुई। सोनियाजी कोटा के मामले पर चिंतित हैं।’

अधिकारियों की सफाई- 2019 में कम मौतें
बता दें कि कोटा जिले के जेके लोन अस्पताल में दिसंबर के अंतिम दो दिन में कम से कम नौ और शिशुओं की मौत हो गई। इसके साथ ही इस महीने अस्पताल में मरने वाले शिशुओं की संख्या 100 तक पहुंच गई है। गत 23-24 दिसंबर को 48 घंटे के भीतर अस्पताल में 10 शिशुओं की मौत को लेकर काफी हंगामा हुआ था। हालांकि, अस्पताल के अधिकारियों ने कहा था कि यहां 2018 में 1,005 शिशुओं की मौत हुई थी और 2019 में उससे कम मौतें हुई हैं।

गहलोत को हर्षवर्धन का खत
इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को नवजातों की मौत पर चिट्ठी लिखी है। न्यूज एजेंसी से बातचीत में हर्षवर्धन ने कहा, ‘मैंने गहलोत को खत लिखकर इस मामले को देखने को कहा है। हम लोग अपनी तरफ से हरसंभव मदद देने को तैयार हैं। पिछले साल के मुकाबले निश्चित तौर पर अधिक मौतें हुई हैं।’

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.