May 8, 2024

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

अदनान सामी को पद्मश्री देने पर भड़की कांग्रेस, बताया भाजपा सरकार की चमचागिरी का जादू

1 min read

शेरगिल ने एक वीडियो जारी कर कहा, ‘भारतीय सेना के वीर सिपाही और भारत माता के पुत्र मोहम्मद सनाउल्लाह जिन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ कारगिल की लड़ाई लड़ी, उनको एनआरसी के जरिए घुसपैठिया घोषित कर दिया गया। दूसरी तरफ, अदनान सामी को पद्म श्री से नवाज दिया गया जिनके पिता पाकिस्तानी वायुसेना में अफसर थे और जिन्होंने भारत के खिलाफ गोलाबारी की थी। सिंह ने ट्वीट किया, ‘पद्म पुरस्कार के लिए चुने गए सभी लोगों को बधाई। मुझे खुशी है कि प्रसिद्ध गायक एवं संगीतकार और पाकिस्तानी मुसलमान प्रवासी अदनान सामी को भी पद्म श्री दिया गया है।’ उन्होंने कहा, ‘मैंने उन्हें भारतीय नागरिकता देने के लिए भारत सरकार से उनके मामले की सिफारिश भी की थी। उन्हें मोदी सरकार ने भारतीय नागरिकता दी थी।’

केंद्र सरकार ने 25 जनवरी को साल 2020 के पद्म पुरस्कारों की घोषणा की। जिसमें बॉलीवुड गायक अदनान सामी को पद्मश्री से सम्मानित किया गया। इसे लेकर राजनीति गर्मा गई है। कांग्रेस ने जाने सामी को सम्मानित जाने पर रविवार को सवाल उठाया और तंज कसते हुए कहा कि अब ‘भाजपा सरकार की चमचागिरी’ यह प्रतिष्ठित सम्मान दिए जाने का नया मानदंड बन गया है।

उन्होंने सवाल किया, ‘पाक के खिलाफ लड़ने वाला भारत का सिपाही घुसपैठिया और पाक वायुसेना के अफसर के बेटे को सम्मान क्यों? क्या पद्मश्री के लिए समाज में योगदान जरुरी है या सरकार का गुणगान? क्या पद्मश्री के लिए नया मानदंड है कि करो सरकार की चमचागिरी, मिलेगा तुमको पद्मश्री?’गौरतलब है कि कुछ साल पहले भारत की नागरिकता हासिल करने वाले सामी को इस साल पद्मश्री सम्मान देने की घोषणा की गई है। सामी पहले पाकिस्तानी नागरिक थे। हालांकि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने सामी को पद्मश्री से सम्मानित किए जाने पर खुशी जताई

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.