November 30, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

SUPREME COURT: में अयोध्या के राम जन्मभूमि- बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले की सुनवाई बुधवार दूसरे दिन शुरू की

1 min read

SUPREME COURT:  ने मध्यस्थता प्रक्रिया विफल होने के बाद नियमित सुनवाई का फैसला किया है। सुप्रीम कोर्ट में निर्मोही अखाड़े की ओर से पेश वरिष्ठ वकील सुशील जैन ने पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ के समक्ष दूसरे दिन अपनी दलीलें रखनी शुरू की। इस पीठ का नेतृत्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई कर रहे हैं। मामले की सुनवाई कर रही पीठ में न्यायमूर्ति एसए बोबडे, न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़़, न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति एस ए नजीर भी शामिल हैं। पीठ ने पिछले शुक्रवार को तीन सदस्यीय मध्यस्थता समिति की रिपोर्ट पर संज्ञान लिया था। इस समिति की अध्यक्षता सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश एफएमआई कलीफुल्ला कर रहे थे। समिति चार महीने की कोशिश के बावजूद किसी सर्वमान्य अंतिम नतीजे पर पहुंच नहीं पाई थी। निर्मोही अखाड़े ने मंगलवार को मजबूती के साथ शीर्ष अदालत में विवादित 2.77 एकड़ जमीन पर दावेदारी पेश की और तर्क दिया कि 1934 से मुस्लिमों का उस स्थान पर प्रवेश नहीं हुआ है।

loading...

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.