April 15, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

दीपिका पादुकोण की फिल्म “छपाक” में एसिड फेंकने वाले शख्स के धर्म में नहीं होगा कोई परिवर्तन

1 min read

मुंबई : जेनएनयू में हुई हिंसा के खिलाफ यूनिवर्सिटी में तमाम आंदोलनकारी छात्रों और विवादों में रहे पूर्व छात्र कन्हैया कुमार के प्रदर्शन में दीपिका पादुकोण की मौजूदगी के बाद से सोशल मीडिया पर फिल्म ”छपाक” को बॉयकॉट करने के अभियान ने और गति पकड़ ली है. दीपिका इस फिल्म में मुख्य भूमिका निभाने के साथ-साथ फिल्म की को-प्रोड्यूसर भी हैं. उनकी यह कहकर आलोचना की जा रही है कि उन्होंने कन्हैया कुमार जैसे ‘देशद्रोही’ के विरोध प्रदर्शन को अपना मूक समर्थन देकर गलत काम किया है.

वहीं दूसरी तरफ एसिड अटैक लक्ष्मी अग्रवाल की जिंदगी पर आधारित इस फिल्म में उनपर हमला करने वाले का धर्म बदलकर दिखाने को लेकर भी विवाद हो रहा है। लक्ष्मी पर रियल लाइफ में जिस शख्स ने हमला किया था वो मुसलमान है जबकि फिल्म में उसे हिंदू दिखाया गया है, तो आखिर इसके पीछे की सच्चाई क्या है?

मालूम हो कि ‘छपाक’ की कहानी लक्ष्मी अग्रवाल की जिंदगी पर आधारित है जिनपर साल 2005 में उस समय हमला हुआ था जब वो 15 साल की थीं। नदीम खान नाम के एक मुस्लिम शख्स ने शादी के लिए लक्ष्मी को प्रपोज किया था लेकिन उनके मना करने पर उसने लक्ष्मी पर तेजाहब फेंक दिया था। अब यह जानकारी सामने आई कि फिल्म में इस हमलावर का धर्म बदल दिया गया है और उसे मुस्लिम नहीं बल्कि हिंदू दिखाया गया है, जिसे लेकर विवाद शुरू हो गया।

 ”स्वराज” नामक मैगजीन में सबसे पहले इस तरह की खबर आई थी और फिल्म‌ में किरदार के धर्म परिवर्तन को हिंदू धर्म को बदनाम करने‌ की साजिश की तरह पेश किया गया था. देखते ही देखते यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हो गयी. लोग फिल्म में हमलावार के धर्म को जानबूझकर बदलने को लेकर तरह-तरह की टिप्पणियां करने लगे और इस तरह से फिल्म को बॉयकॉट करने की मांग और तेज होने लगी.

ल्लेखनीय है कि सत्य घटनाओं पर आधारित और लक्ष्मी अग्रवाल की जिंदगी से प्रेरित ”छपाक” में सभी किरदारों के नाम बदल दिये गये हैं. लक्ष्मी अग्रवाल का रोल निभाने वाली दीपिका का नाम फिल्म में लक्ष्मी ना रखकर मालती रखा गया है, उनके प्रेमी का नाम आलोक ना होकर अमोल है. ठीक इसी तरह से नदीम खान का नाम बदलकर बशीर खान रखा गया है.

मेघना गुलजार के साथ फिल्म की संवाद और स्क्रीन प्ले लिखने वाली लेखिका आतिका चौहान ने पहले ही एक ट्वीट के जरिए इस पर सफाई दे दी थी और इसे महज एक अफवाह करार दिया था. लेकिन सोशल मीडिया पर इस खबर को जानबूझकर वायरल कराकर पहले ही निशाने पर आ चुकी ”छपाक” को एक और एक विवाद में घसीटा गया और इसे फिल्म को बॉयकॉट करने की एक और वजह कर तौर पर पेश किया गया.

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.