October 18, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

नशे के आदी पति ने पारिवारिक कलह के चलते मुंह में कपड़ा ठूसकर हत्या

1 min read

शव रजाई में छिपाकर खुद बिना किसी को बताए चुपचाप घर से बाहर निकला और रेलवे पटरी के पास जाकर ट्रेन के आगे छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी होते ही हड़कंप मच गया।मृतक दंपति फल, चाट व मिठाई की दुकान संचालित कर परिवार का भरण पोषण करते थे। मृतक सूरजभान केशरवानी के तीन पुत्र व एक पुत्री है। उन्होंने बताया कि पिता ने ही नशे के चलते उनकी मां को बेरहमी से मार डाला है। एसडीएम कालोनी के पीछे शोभासिंह का पुरवा निवासी सूरजभान केशरवानी (50) पुत्र मुन्नीलाल परिवार के साथ रहता था। नशेबाजी को लेकर अक्सर घर में पत्नी व अन्य सदस्यों से मारपीट होती थी।

शनिवार को घर पर मेहमान आए थे। उनके सामने भी पति पत्नी का विवाद हुआ। देर रात लगभग 11 बजे को जब पूरा परिवार सो रहा था तो सूरजभान उठा और सो रही पत्नी आशा उर्फ रानी केशरवानी (45) के मुंह में कपड़ा ठूसकर पहले से अपने पास रखे पत्थर से उसके सिर व चेहरे पर कई वार किए। इससे वह चीख भी नहीं पाई और वहीं उसकी मौत हो गई।

पत्नी के मौत के बाद सूरजभान चुपचाप कमरे से निकलकर बाहर आ गया। करीब साढे़ 11 बजे पुरवा से हाईवे पर पहुंचा। इसके बाद वह रेलवे स्टेशन कर्वी पहुंचकर आउटर की ओर पैदल चला गया। कुछ देर बाद जबलपुर से हजरत निजामुददीन की ओर जा रही महाकौशल एक्सप्रेस के इंजन के सामने छलांग लगा दी। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। स्टेशन पहुंचे ट्रेन चालक व गार्ड ने मामले की जानकारी रेल अधिकारियों को दी।

मौके पर पहुंचे जीआरपी प्रभारी पीएल प्रजापति ने मृतक की जेब में मिले कागजात व मोबाइल के आधार पर शिनाख्त कर उसके घर फोन लगाया लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। जीआरपी प्रभारी ने बताया कि देर रात को ही वह शोभासिंह का पुरवा पहुंचकर मृतक के घर में परिजनों को इसकी जानकारी दी। मृतक के पुत्र बसंत, कामता व सुशील अपनी मां को जानकारी देने कमरे में पहुंचे तो वहां मां को मृत देख सबके होश उड़ गए।

 

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.