August 9, 2022

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

आपको बतादे की मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी का ऑपरेशन कमल शुक्रवार को सफल हो गया। यहां की कांग्रेस सरकार को बागी विधायकों ने आखिरकार गिरा दिया। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने यहां आयोजित संवाददाता सम्मेलन में इस्तीफे की घोषणा की। इसके बाद कमलनाथ ने राजभवन में राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात करके इस्तीफा सौंप दिया। इस प्रकार अब विधानसभा में फ्लोर टेस्ट की जरूरत नहीं रह गई है भाजपा के सूत्र से मिली जानकारी के मुताबित पार्टी आज शाम ही राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेगी।

सभी विधायकों को भोपाल बुलाया गया है। इसमें शिवराज सिंह को विधायक दल का नेता चुना जा सकता है। संवाददाता सम्मेलन के दौरान कमलनाथ ने भाजपा पर 22 बागी विधायकों के साथ मिलकर सरकार के खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगाया साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि कुछ लोग नहीं चाहते थे कि राज्य का विकास सही तरीके से हो।गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को सुनवाई के दौरान शुक्रवार को शाम पांच बजे तक विधानसभा में शक्ति परीक्षण का आदेश दिया था।

22 बागी विधायकों का इस्तीफा स्वीकार होने के बाद कमलनाथ सरकार के बचे रहने की उम्मीदें पहले ही खत्म हो गई थी। मध्य प्रदेश में शुक्रवार को कमलनाथ ने फ्लोर टेस्ट होने से पहले ही इस्तीफा दे दिया था. अब खबर आ रही है कि भारतीय जनता पार्टी 25 मार्च तक सरकार बनाने का दावा कर सकती है. आज बीजेपी विधायक दल का नेता चुने जाने पर संशय है.

वहीं मध्य प्रदेश में तीन बार के मुख्यमंत्री रह चुकी शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर सीएम की रेस में सबसे आगे हैं. मुख्यमंत्री के पद के लिए नरेन्द्र सिंह तोमर, नरोत्तम मिश्रा और थावर चंद गहलोत के नामों पर भी चर्चा चल रही है पूर्व केंद्रीय मंत्री सत्यनारायण जटिया ने बताया कि पार्टी के पास योजना है. उम्मीद है कि कोई कठिनाई नहीं होगी. बीजेपी के पास अनुभवी नेतृत्व है . परंपरा के आधार पर नेतृत्व का चयन होगा. विधायक दल नए मुख्यमंत्री का चयन करेगा।

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.