June 22, 2021

Sarvoday Times

Sarvoday Times News

वायरस से मौत के बाद अमेरिका में इमरजेंसी घोषित

1 min read

जैसा की सभी जानते है की दुनिया का ताकतवर देश है अमेरिका अब इस दुनिया के सबसे ताकतवर देश अमेरिका में जानलेवा कोरोना वायरस की वजह से 41 लोगों की मौत हो गई है. राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने अमेरिका में इमरजेंसी घोषित कर दी है. साथ ही डोनल्ड ट्रंप ने कोरोना से लड़ने के लिए 37 हजार करोड़ रुपये जारी करने का एलान भी किया है. ट्रंप ने यह भी कहा है कि मैं खुद भी कोरोना का टेस्ट कराऊंगा.अमेरिका में दो हजार से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हैं.

ट्रंप भी जल्द अपनी कोरोना की जांच कराएंगे, क्योंकि हाल ही में ट्रंप ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो से मिले थे सुत्रों से मिली खबरों के मुताबिक, उनके प्रतिनिधिमंडल का एक अधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है.साथ ही इवांका पर भी कोरोना का खतरा है, क्योंकि इंवाका ऑस्ट्रेलिया के गृह मंत्री पीटर डटन से मिली थीं और पीटर डटन कोरोना की चपेट में आ चुके हैं.

बता दें कि चीन के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस ने वैश्विक महामारी का रूप ले लिया है. अमेरिका और भारत समेत दुनिया के कई देश इसकी चपेट में हैं. व्हाइट हाउस के लॉन में ट्रंप ने एक बयान में कहा संघीय सरकार की पूर्ण शक्ति का उपयोग करने के लिए मैं आधिकारिक तौर पर राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा करता हूं.उन्होंने अमेरिका के सभी राज्यों से आपात ऑपरेशन केन्द्र बनाने को कहा है.

इससे पहले कोरोना वायरस के कहर को देखते हुए डोनाल्ड ट्रंप ने यूरोप से अमेरिका की सभी यात्राओं पर 30 दिन के लिए बैन लगा दिया है. अमेरिका का यह फैसला विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोरोना वायरस को महामारी घोषित किए जाने के एक दिन बाद आया.

कोरोना को महामारी घोषित करते हुए WHO ने कहा कि इस वायरस से अब तक दुनियाभर में 4300 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, इसलिए इसे महामारी कहा जा सकता है. बता दें, किसी भी बीमारी को महामारी तब घोषित किया जाता है जब वह एक से ज्यादा देशों में फैल जाए और लोगों के सामने जीवन का संकट पैदा कर दे. बीते कुछ दिनों में कोरोना का कहर विश्व भर में देखने को मिला है.

loading...
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.